आर्मी के जवान की शव गांव पहुंचते ही मचा कोहराम

0

परवेज अख्तर/सिवान :- जिले के हसनपुरा एमएच नगर थाना के महुअल महाल में बिती रात्री करीब दो बजे दिवंगत आर्मी के जवान ब्रजेश मिश्र (37) की शव पहुंचते ही कोहराम मच गया. भारतीय सेना के जवान की पार्थिव शरीर को देख सभी की आंखें नम हो गयी. बिते 25 जुलाई की शाम पांच बजे अचानक हृदयगति रुकने से मौत हो गयी थी. बुधवार की रात्री दो बजे जम्मू कश्मीर से तिरंगा में लिपटा जवान का पार्थिव शरीर पैतृक गांव महुअल महाल पहुंचा. शव जैसे ही गांव पहुंचा जवान को देखने के लिये लोगों का तांता लग गया.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
a1
ads
WhatsApp Image 2020-11-09 at 10.34.22 PM
Webp.net-compress-image
a2

जवान ईएमई विभाग में पोस्टेड थे. 17 वर्ष पहले आर्मी में योगदान किये थे. उनके एक बेटा व एक बेटी है. जिसमें अंकुश कुमार 9 वर्ष तथा लक्की कुमारी 11 वर्ष शामिल है. उनका ससुराल इसी थाने के रजनपुरा में है. पिछले एक साल पूर्व अपने पिता के देहांत होने पर घर लौटे थे. बुधवार की सुबह उनका तिरंगा झंडे में लपेटे पार्थिव शरीर सिसवन के सरयू नदी के तट पर सम्मान के साथ गार्ड ऑफ ऑनर द्वारा सलामी देने के पश्चात अंतिम संस्कार किया गया.मुखाग्नि उनके 9 वर्षीय पुत्र अंकुश मिश्र ने दी.

दौरान एमएस नगर की पुलिस, चैनपुर ओपी तथा सिसवन थाना की पुलिस ने सलामी दी. इसके साथ ही मौके पर सांसद पति अजय सिंह भी मौजूद होकर उनके अंतिम दर्शन यात्रा में सरयू घाट पहुंचे थे. वहीं करीब सैकड़ों ग्रामीणों व उनके चाहने वालों की लंबी कतार लगी हुई थी.सबकी आंखें नम थी.मौके पर मुखिया अनुप मिश्र व जदयू नेता संजय पासफोर, रंजीत कुमार,मनन मिश्र,बीरेंद्र पांडेय सहित सैकड़ों लोग शामिल रहे.