चांप में मजदूरों के लिए घर को ही बना दिया आइसोलेशन सेंटर

0
iso

परवेज अख्तर/सिवान:- जिले के हुसैनगंज प्रखंड के चांप पंचायत स्थित अपने घर को प्रवासी लोगों के लिए ठहरने व खाने की व्यवस्था के लिए हुसैनगंज के प्रखंड प्रमुख ने अपने घर को ही आइसोलेशन सेन्टर बना दिया है। प्रखंड प्रमुख के घर में पचास बेड
लगाए गए हैं। यहां स्थानीय ग्रामीणों के साथ दूसरे राज्यों से बिहार के
विभिन्न जिले को लौट रहे मजदूर व कामगारों के लिए ठहरने के अलावा
खाने-पीने व चिकित्सा की व्यवस्था की गई है। सेनेटाइजर, दवा, ग्लव्स, व
मास्क भी दिए जा रहे है। यूपी के बहराइच जिले के बारह मजदूरों को बुधवार
को भोजन एवं मेडिकल की व्यवस्था के साथ ठहराया गया है। वहीं गुरुवार को
यूपी से छपरा व हाजीपुर के 13 मजदूर को ठहराया गया। उन्होंने भी भोजन व
मेडिकल व्यवस्था का लाभ उठाए। प्रमुख राजाराम साह व उनकी पत्नी स्थानीय
मुखिया अजिता देवी ने बताया कि कोरोना महामारी के संकट को लेकर स्थानीय
गरीब व दिहाड़ी मजदूरों के साथ-साथ दूसरे राज्यों व जिले से अपने घरों को
लौट रहे लोगों के लिए 29 मार्च से ठहरने के साथ ही प्रतिदिन यहां
खाने-पीने की व्यवस्था की गयी है। स्वच्छ वातावरण में बने इस आइसोलेशन
सेन्टर में बिजली, पानी, शौचालय, मुफ्त दवा व भोजन की पूर्ण व्यवस्था की
गई है। दो मंजिले मकान के निचले हिस्से में भोजन व ऊपर के हिस्से में
ठहरने की व्यवस्था है। भोजन सुबह दस से बारह बजे तक व शाम छह बजे से दस
बजे तक करायी जाती है। प्रतिदिन करीब 250 लोग अपनी भूख मिटाते हैं। दूसरे
प्रदेशों से महिलाओं के आने की संभावना को देखते हुए चांप व टेघड़ा के कई
स्कूलों से महिलाओं की प्रतिनियुक्ति भी आइसोलेशन सेन्टर पर की गई है।
चांप के पंचायत प्रभारी जितेंद्र कुमार ने बताया कि यहां यूपी, कटिहार,
भागलपुर, मुजफ्फरपुर, हाजीपुर कई जिले के लाग ठहर चुके हैं। इस कार्य में
विकास मित्र सीमा देवी, कचहरी सचिव संजय कुमार सिंह, गौरीशंकर साह व मो.
शादाब योगदान दे रहे हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal