छपरा में घर से बुलाकर हत्या करने के मामले में पत्नी के बयान पर FIR दर्ज

0

मृतक की पत्नी ने गांव के ही तीन लोगों पर पति की हत्या की दर्ज कराई प्राथमिकी

छपरा: जिले के तरैया थाना क्षेत्र के डीह छपिया गांव से गतदिन तरैया पुलिस ने घोघरा नदी से एक युवक का शव बरामद किया है। शव कि पहचान तिलंगी प्रासाद के 45 वर्षीय पुत्र रविशंकर प्रसाद के रूप में की गई है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर अंत्यपरीक्षण के लिए छपरा सदर अस्पताल भेज दिया है। इस संबंध में मृतक की पत्नी दुर्गावती देवी ने तरैया थाने में एक प्राथमिकी दर्ज कराई है। जिसमें गांव के ही तीन लोगों को पति की हत्या का आरोप लगाया गया है। दर्ज प्राथमिकी में कहा गया है

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

कि गत 22 अक्टूबर की संध्या समय अपने पति और बच्चों के साथ अपने दरवाजे पर बैठी हुई थी। उसी समय महेश राम आये और उनके पति को एक जरूरी कार्य बता कर साथ लेकर चले गए। देर रात्रि तक जब उनके पति वापस घर नहीं लौटे तो वे काफी चिंतित हुई। अगले दिन सुबह में उन्हें काफी खोजबीन किया गया लेकिन कही कुछ पता नहीं चला। महेश राम से अपने पति के बारे में पूछने पर कुछ स्पष्ट नहीं बता रहे थे। ग्रामीणों के सहयोग से जब काफी खोजबीन शुरू किया गया तो उनके पति का एक चप्पल मिला। अगले दिन संध्या समय घोघरा नदी में उनके पति का शव मिला, जो मिट्टी और ईंट से पानी में दबा हुआ था।

घटना के बाद जब महेश राम से अपने पति के बारे में पूछी तो बोले कि हम तीन आदमी मिलकर तुम्हारे पति की हत्या कर दिए हैं। मुझे पूर्ण विश्वास है कि महेश राम, किशुन राम, ज्ञानी सहनी ने मिलकर मेरे पति को चाकू एवं धारदार हथियार से गला दबा कर उनकी हत्या कर साक्ष्य छुपाने के उद्देश्य से शव को नदी में फेंक दिया था। पुलिस मामले में प्राथमिकी दर्ज कर आगे की कार्रवाई में जुट गई है।