प्रवासी मजदूरों को गुठनी में जांच के बाद भेजा गया उनके गृह जिला

0
screninig

आरबीटी और जीवीजीएस में भोजन नास्ते का मुकम्मल प्रवंध

परवेज अख्तर/सिवान:- कोरोना संक्रमण के मद्देनजर देश मे लागू लॉक डाउन के दौरान देश के विभिन्न शहरों में फंसे बिहार के प्रवासी मजदूरों को केंद्रीय गृह मंत्रालय के निर्देश पर अपने घर जाने की अनुमति मिलते ही यूपी बिहार की सीमा पर स्थित श्रीकर पुर चेक पोस्ट के रास्ते मजदूरों का आना शुरू हो गया है।बताते चलें कि उन मजदूरों को बिहार में प्रवेश करते हीं स्थानीय प्रशासन द्वारा जिला प्रशासन के सहयोग से आईसोलेशन सेंटर के रूप में चिन्हित आरबीटी विद्यालयऔर हरपुर स्थित ज्ञान भैरव ग्लोवल स्कूल में मुक्कमल भोजन और नास्ता कराने के बाद मेडिकल जाँच के लिए गठित टीम द्वारा थर्मल स्केनिंग कराकर फिर सरकारी बसों को सैनिटाइज कर उन्हें उनके गृह जिला के लिए रवाना किया जा रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

इस सम्पूर्ण प्रक्रिया के दौरान सोशल डेस्टीनसिंग का विधिवत पालन किया जा रहा है।इस विच जहाँ जहाँ मजदूरों को ठहरने,अल्पाहार,भोजन और मेडिकल जाँच की व्यवस्था की गई है उन सभी कोरेंटाईन सेंटरों पर बीडीओ धीरज कुमार दुबे, सीओ राकेश कुमार और जिला परिवहन पदाधिकारी के साथ कई आला अधिकारी मौजूद रहे।थानाध्यक्ष मनोरंजन कुमार ने बताया कि चेक पोस्ट से विना सूचना इंट्री कराए कोई बिहार की सीमा में प्रवेश ना करे इसके लिए पोस्ट पर तैनात पुलिस कर्मियों को कड़ी नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं।