सीवान में उत्तर प्रदेश के कुख्यात अपराधी समेत 11 लोग हुए हैं गिरफ्तार: एसपी अभिनव कुमार

0

पुलिस ने किया कई अपराधिक घटनाओं का उद्भेदन

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

परवेज़ अख्तर/सिवान:
जिले में पिछले कुछ दिनों में हुई हत्या, लूट व डकैती सहित अन्य आपराधिक घटनाओं का उद्भेदन बुधवार को एसपी अभिनव कुमार ने किया। समाहरणालय स्थित अपने कार्यालय में प्रेसवार्ता कर एसपी ने बताया कि पांच मामलों में अभी तक 11 लोगों की गिरफ्तारी की गई। इसमें एक देसी कट्टा,गोली सहित अन्य सामानों को बरामद किया गया है। बताया कि पहला मामला हुसैनगंज थाना क्षेत्र के टेढ़ी घाट की है, जहां पांच फरवरी को बाइक मिस्त्री मुकेश कुमार से अज्ञात तीन अपराधियों ने सोने की चेन छीनने के क्रम में मुकेश को गोली मार कर घायल कर दिया। घटना में शामिल अपराधी नगर थाना क्षेत्र के रामनगर निवासी रवि कुमार सिंह को गिरफ्तार किया गया। फरार दो की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। वहीं दूसरी घटना 8 फरवरी को सिसवन थाना क्षेत्र के बघौनी गांव की थी। यहां राकेश कुमार सिंह के पुत्र आदित्य कुमार उर्फ टुकटुक की हत्या कर पास के राकेश कुमार के अ‌र्द्धनिर्मित मकान से शव को फेंक दिया गया था। जांच के क्रम में गांव निवासी खगेंद्र कुमार सिंह को गिरफ्तार किया गया है। अभी तक के जांच में आपसी रंजिश के कारण आदित्य कुमार की हत्या की बात सामने आई है।

एसपी ने बताया कि तीसरी घटना एमएच नगर थाना क्षेत्र की है।जहां 3 फरवरी को कन्हौली स्थित रजनीश कुमार दुबे एवं 6 फरवरी को सिसवा खूर्द स्थित कृष्णा गिरि के घर में अज्ञात अपराधकर्मियों द्वारा घर में घुसकर लूटपाट की घटना को अंजाम देते हुए नकद रुपया एवं जेवर आदि लूट ली गई थी।पुलिस को सूचना मिली कि रघुनाथपुर थाना क्षेत्र के हरनाथपुर में कुछ लोग गहना बेचने के लिए पहुंचे हैं। छापेमारी कर पांच अपराधियों को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार रघुनाथपुर थाना क्षेत्र के संठी निवासी पवन कुमार पांडेय, हरनाथपुर निवासी प्रदीप कुमार सिंह, संजय कुमार शर्मा, धनु कुमार सिंह एवं नेवारी निवासी रंजीत कुमार शामिल है। इनके पास से एक देसी कट्टा एवं दो गोली को बरामद की गई है। वहीं असांव थाना क्षेत्र के खरदरा नोनिया टोला निवासी अनील कुमार पासवान ने 9 फरवरी की रात्रि थाना में सूचना दी कि उनका भाई पंकज कुमार पासवान 8 फरवरी से लापता था।

9 फरवरी को अनिल कुमार पासवान के मोबाइल पर फोन से किसी ने अपहरण करने की जानकारी दी।इस मामले में छह लाख रुपये की मांग की गई थी। मामले में टेक्निकल सेल के सहयोग से मोबाइल नंबर के लोकेशन के आधार पर यूपी के लार में देवरिया थाना पुलिस के सहयोग से छापेमारी कर अपहृत पंकज को सकुशल बरामद किया गया। इस मामले में लार निवासी रामेश्वर विश्वकर्मा व नारायण विश्वकर्मा को घटना में प्रयुक्त दोनों मोबाइल के साथ गिरफ्तार किया गया है।एसपी ने बताया कि इन घटनाओं के उद्भेदन में शामिल सभी पुलिस पदाधिकारियों को पुरस्कृत किया जाएगा।