आपूर्ति पदाधिकारी घर हुई छापेमारी में 13 लाख नगद, आभूषण के अलावा 4.5 करोड़ की संपत्ति मिली

0

पटना: निगरानी विभाग आय से अधिक संपत्ति के मामले में एक भ्रष्ट अफसर के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। छापेमारी में अकूत संपत्ति का पता चला है। वैशाली स्थित उनके घर पर छापेमारी के बाद 4.50 करोड़ की सम्पति का खुलासा हुआ है। केवल वैशाली में हुयी छापेमारी में साढ़े 13 लाख रुपए कैश, इसके अलावा आभूषण, 2 करोड़ 30 लाख का भूमि का कागजात बरामद किया गया है। साथ ही 90 लाख बैंक में सेविंग है। DSP के मुताबिक, हाजीपुर के अलावा दिल्ली, गुड़गांव, नोएडा में भी मकान है। हाजीपुर के अलावा मुजफ्फरपुर में निगरानी की टीम छापेमारी कर रही है। उन्होंने कहा कि अभी छापेमारी, जांच चल रही है। डीएसपी समेत 12 निगरानी की टीम में सदस्य शामिल है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

जानकारी के अनुसार मुजफ्फरपुर के मुसहरी ब्लॉक में पदस्थापित प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी जिसे जिले का सप्लाई माफिया कहा जाता है। उसके ठिकानों पर छापेमारी जारी है। मुजफ्फरपुर स्थित आवास,सरकारी कार्यालय और शहर के एक मॉल में छापेमारी की जा रही है। अब तक 13 लाख रुपए कैश और 1 किलो सोने के गहने बरामद हो चुके हैं।

बताया जाता है कि इस भ्रष्ट माफिया ने अकूत संपत्ति अर्जित की है, जिसमें मुजफ्फरपुर के मिठनपुरा स्थित ग्रैंड मॉल में करीब डेढ़ करोड़ रुपेश से दो दुकान खरीदा है। वह जांच ब्यूरो की आंख में धूल झोंकने के लिए पत्नी के नाम पर दोनों दुकान खरीदा। लेकिन उसमें अपने नाम की जगह ससुर का नाम दे दिया। निगरानी ब्यूरो की तलाशी जारी है । यह भ्रष्ट अफसर कई सालों से मुजफ्फरपुर जिले में ही पदस्थापित है।