सिवान में 19 वर्षीय छात्र सैफ अली के माथे के बीचों बीच गोली मार अपराधियों ने की निर्मम हत्या, इलाके में सनसनी

0
  • पहले अपराधियों ने की है बेरहमी से पिटाई उसके बाद माथे के बीचो बीच में गोली मार मौत की सुला दी नींद
  • साक्ष्य मिटाने के उद्देश्य से शव को पानी में अपराधियों ने फेंका
  • इंटर की परीक्षा देकर मृतक करता था आगे की पढ़ाई
  • शहर के शुक्ला टोली का रहने वाला था मृतक

परवेज अख्तर/सिवान:
शहर में सक्रिय अपराधकर्मियों ने एक 19 वर्षीय छात्र की गोली मारकर निर्मम हत्या कर डाली।घटना रविवार की देर रात्रि की है।उधर सोमवार को ग्रामीणों की सूचना पर नगर थाना क्षेत्र के इस्लामिया नगर स्थित इंडियन पब्लिक स्कूल के सटे नहर से नगर थाना, सराय ओपी तथा हुसैनगंज थाना पुलिस ने संयुक्त रूप से कारवाई करते हुए काफी मशक्कत के बाद पानी से शव निकाला।शव बरामद होने की सूचना पर इलाके मेंं सनसनी फैल गई तथा तरह तरह के अटकलों का बाजार गर्म हो गया।मृत छात्र की पहचान नगर थाना क्षेत्र के शुक्ला टोली (वार्ड नंबर 24) के बाबू खान के 19 वर्षीय पुत्र सैफ अली के रूप में की गई है।जो इंटर की परीक्षा देकर आगे की पढ़ाई कर रहा था। मृतक के पिता ने बताया कि सैफ अली रविवार की रात करीब 8:00 बजे बाइक लेकर घर से निकला और देर रात तक वह वापस नहीं आया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

उसके वापस नहीं आने से उसकी बहुत तलाश की गई परंतु उसका कहीं सुराग नहीं लगा कि इसी बीच सोमवार की दोपहर सूचना मिली कि सैफ अली का शव नगर थाना क्षेत्र के इस्लामिया नगर स्थित आइडियल पब्लिक स्कूल के सटे नहर में पड़ा हुआ है तो हम सभी आनन-फानन में घटनास्थल पर पहुंचे तथा बरामद शव की पहचान अपने पुत्र सैफ अली के रूप में किए।शव देखने से ऐसा प्रतीत हो रहा था कि घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों ने पहले सैफ अली की बेरहमी से पिटाई करने के बाद उसके माथे के बीचो बीच में गोलीमार निर्मम हत्या कर डाली है तथा साक्ष्य मिटाने के उद्देश्य से उसके शव को पानी में अपराधियों द्वारा फेंक दिया गया है। उधर सूचना पाकर नगर थाना, सराय ओपी, तथा हुसैनगंज पुलिस ने संयुक्त रुप से पंचनामा के आधार पर शव को बरामद किया।बाद नगर थाना की पुलिस ने अग्रिम कार्रवाई के लिए बरामद शव का पोस्टमार्टम हेतु सिवान सदर अस्पताल भेज दिया है। उधर सदर अस्पताल प्रशासन द्वारा एक मेडिकल टीम का गठन कर शव का पोस्टमार्टम कराया गया। पोस्मार्टम की कारवाई के पुलिस ने सैफ अली का शव उनके परिजनों को सौंप दिया।

bheed 1

शव पहुंचते ही परिजनों में मचा कोहराम:

पोस्टमार्टम के बाद जैसे ही सैफ अली का शव उसके घर शुक्ला टोली में पहुंचा तो परिजनों के हृदय विदारक चीत्कार से पूरा मोहल्ला गमगीन हो गया।शव को देख देख उसके परिजन दहाड़ मार रो बिलख रहे थे।मृतक की मां गुलशन आरा खातून का रोते-रोते बुरा हश्र हो चुका है।उसके पिता बाबू खान का भी अपने लाडले के गम में रोते रोते उनके रिमझिम आंखों के आंसू ही सूख गए हैं।

मृतक अपने माता-पिता का चौथा नंबर संतान था। भाइयों में क्रमशः पाले खान, आमिर खान, आसिफ खान, तथा सबसे छोटा अफसर खान है।तथा बहनों में क्रमशः स्वीटी खातून, ब्यूटी खातून तथा सिब्बी खातून है। सैफ अली के हत्या के बाद परिजनों का रोते-रोते बुरा हाल हो चुका है।

क्या कहते हैं नगर थानाध्यक्ष:

इस संदर्भ में नगर इंस्पेक्टर सह थानाध्यक्ष जयप्रकाश पंडित ने कहा कि अभी तक परिजनों द्वारा कोई लिखित तहरीर नहीं दी गई है।लिखित तहरीर प्राप्त होते ही प्राथमिकी दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।वैसे परिजनों के मौखिक बयान के आधार पर अनुसंधान जारी है।