सिवान के सदर अस्पताल के दो कर्मी समेत मिले 22 नए कोरोना संक्रमित

0
corona positive

परवेज़ अख्तर/सिवान:
जिले में कोरोना संक्रमण का फैलाव जारी है। शनिवार को जिलेभर में करीब 3318 सैंपलों की जांच की गई। इसमें 22 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले। वहीं लगभग 10 मरीजों ने कोरोना को हरा दिया। इसके साथ ही जिले में कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 3735 पर पहुंच चुकी है। जिले में कोरोना का आंकड़ा एकबार फिर तेजी से बढ़ने लगा है। वही भी इसलिए क्योंकि लोग लापरवाही कर रहे हैं। लोग थोड़ी सी सतर्कता बरतें तो कोरोना को नियंत्रित किया जा सकता है। राज्य स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार जिले में शनिवार को कोरोना संक्रमित 22 नए मरीज मिले हैं। इसके बाद कोरोना मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 3735 हो गई है, लेकिन इनमें से अबतक 3505 लोग कोरोना से पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। फिलहाल जिले में कुल 205 एक्टिव मरीज ही बचे हुए हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

वहीं अबतक जिले में कोरोना से 25 लोगों की मौत हो गई है। सिविल सर्जन डॉ. यदुवंश कुमार शर्मा ने बताया कि जिन लोगों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, उनमें सदर अस्पताल के दो कर्मी, जिला मुख्यालय के दो, मैरवा प्रखंड के एक, बड़हरिया प्रखंड के एक तथा बसंतपुर के तीन अन्य प्रखंडों के मरीज शामिल है। सिविल सर्जन ने बताया कि जिले में लगातार कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है। शहरी क्षेत्र समेत ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। इनमें से अधिकांश मरीजों को होम आइसोलेशन में रखकर टेली मेडिसिन के द्वारा बेहतर चिकित्सक के द्वारा उचित परामर्श उपलब्ध कराया जा रहा है।

साथ ही होम आइसोलेट करने से पूर्व सभी संक्रमित मरीजों को दवा आदि उपलब्ध करा दिया गया है। सीएस ने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा कोरोना जांच में तेजी लाने को लेकर प्रतिदिन जिले के विभिन्न क्षेत्रों में शिविर लगाकर कोरोना की जांच की जा रही है। सीएस ने बताया कि शनिवार को जिले में विभिन्न जगहों पर विशेष शिविर लगाकर 3318 सैंपल एकत्रित कर उनकी जांच की गई। इसमें ट्रू नेट द्वारा 178 तथा़ रैपिड एंटीजन किट द्वारा 2889 सैंपलों की जांच की गई। जांच के दौरान नौ लोगों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। जबकि 251 सैंपलों को जांच के लिए आरएमआरआइ पटना भेज दिया गया।