बिहार में 27 लोगों की मौत, गोपालगंज में 17 और बेतिया में 10 लोगों की जान गई, जहरीली शराब की आशंका

0

गोपालगंज/बेतियाः बिहार के गोपालगंज में मंगलवार की शाम हुई जहरीली शराबकांड में मौतों का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है. गुरुवार की दोपहर एक बजे तक 17 लोगों की मौत शराब पीने की वजह से हो चुकी है. जबकि 7 लोगों की हालत गंभीर है, जिनका इलाज गोपालगंज के सदर अस्पताल और मोतिहारी के सरकारी अस्पताल में चल रहा है, इनमें कई लोगों की आंखों की रोशनी चली जाने की बात कही गई है. वहीं बेतिया में बुधवार से गुरुवार दोपहर तक मरने वालों की संख्या दस हो चुकी है. मरने वाले सभी लोग दक्षिणी तेल्हुआ पंचायत के वार्ड नंबर दो, तीन और चार के रहने वाले हैं. कहा जा रहा कि संख्या अभी और बढ़ेगी. कई लोग अस्पताल में भर्ती हैं. यहां भी जहीरीली शराब पीने से मौत होने की बात कही जा रही है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

गोपालगंज जिला प्रशासन ने सात शवों का पोस्टमार्टम करा दिया है, जबकि अन्य चार लोगों ने दाह-संस्कार करा दिया है. वहीं, शेष बचे शवों को पोस्टमार्टम कराने की प्रक्रिया चल रही है. जहरीली शराब से लोगों के मरने की सूचना पर डीएम डॉ. नवल किशोर चौधरी, एसपी आनंद कुमार के साथ उत्पाद विभाग और जिला प्रशासन की टीम इलाके में जांच कर रही है.

गोपालगंज में तीन मकानों को किया गया सील

गोपालगंज के डीएम डॉ. नवल किशोर चौधरी का कहना है कि शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है. रिपोर्ट आने के बाद स्पष्ट हो पाएगा की मौत आखिरकार कैसे हुई है. फिलहाल पुलिस शराब के ठिकानों पर लगातार छापेमारी कर रही है. पुलिस की कार्रवाई में अब तक तीन मकानों को सील किया गया है, जबकि चार धंधेबाज तुरहा टोले के छोटेलाल साह, अशोक शर्मा, रामप्रवेश साह और जितेंद्र प्रसाद को गिरफ्तार किया गया है.

क्या है पूरा मामला?

गोपालगंज जिले के महमदपुर थाने के कुशहर तुरहा टोले और दलित बस्ती में मंगलवार की शाम दो दर्जन से अधिक लोगों ने जहरीली शराब पी थी. पाउच की शराब पीने के बाद हालत बिगड़ने लगी. पेट में जलन और मुंह से झाग आने के बाद परिजनों ने आनन-फानन में स्थानीय अस्पताल और सदर अस्पताल में भर्ती कराया. बुधवार की शाम तक दस लोगों की मौत हुई थी. गुरुवार को संख्या 17 पहुंच गई. परिजनों के अनुसार जहरीली शराब की वजह से मौत हुई है.

मंत्री जनक राम पीड़ितों से मिले

इधर, जहरीली शराब से लोगों की मौत होने की सूचना पर बिहार सरकार के खान एवं भूतत्व मंत्री जनक राम गांव में पहुंचे. बुधवार की रात में पहुंचे जनक राम ने एक-एक कर सभी मृतकों के परिजनों से मुलाकात की. मंत्री ने कहा कि मरने वाले सभी दलित परिवार के सदस्य हैं. साजिश के तहत जहरीली शराब पिलाई गई है. मंत्री ने इस मामले में दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई कराने का आश्वासन परिजनों को दिया है. वहीं जिला प्रशासन को बीमार लोगों की त्वरित इलाज कराने का निर्देश दिया है.

गोपालगंज में इनकी हुई संदिग्ध मौत

  • छोटे लाल सोनी
  • संतोष गुप्ता
  • छोटेलाल प्रसाद
  • मुकेश राम
  • रामबाबू राय
  • रमेश राम
  • इंद्रजीत राम
  • चन्द्रमा राम
  • बलिराम राम
  • सूरज राम
  • ज्ञानचंद्र राम
  • राज मोहन राम
  • धर्मेंद्र राम
  • चुन्नू पांडेय
  • योगेंद्र महतो
  • मोहन राम
  • दुर्गा शर्मा

बेतिया में इन लोगों की मौत

  • बच्चा यादव
  • महाराज यादव
  • हनुमंत सिंह
  • मुकेश पासवान
  • जवाहर सहनी
  • उमा साह
  • रमेश सहनी
  • राम प्रकाश राम
  • हासिम खान
  • बेतिया में जिस दसवें शख्स की मौत हुई है उसका नाम पता नहीं चल सका है