एनई रेलवे यूनियन का तीन दिवसीय क्रमिक अनशन शुरू

0

परवेज अख्तर/सिवान:= केन्द्र सरकार की मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ आॅल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के आह्वान पर एनई रेलवे मजदूर यूनियन सिवान शाखा के द्वारा तीन दिवसीय क्रमिक अनशन मंगलवार से शुरू किया गया। यह 10 मई तक चलेगा। अनशन पर बैठे शाखा मंत्री विनोद रंजन ने बताया कि रेल कर्मचारियों की लंबित मांगों के समाधान में रेल मंत्रालय द्वारा किये जा रहे अनुचित विलंब के विरोध में आॅल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के आह्वान पर एनई रेलवे मजदूर यूनियन द्वारा सभी शाखाओं के स्तर पर तीन दिवसीय क्रमिक अनशन रखा गया है। रेल कर्मियों की प्रमुख मांगे नई पेंशन योजना (एनपीएस) हटवाना और पुरानी गारेंटेड पेंशन/फैमिली पेंशन बहाल करवाना है। साथ ही साथ रेलवे में निजीकरण और ठेकेदारी प्रथा को तत्काल बंद किया जाए। एन पी एस हटाओ, पुरानी गारंटेड पेंशन व फैमिली पेंशन बहाल करो,दिये गये आश्वासन के अनुरूप न्यूनतम वेतत फार्मूले में तत्काल सुधार हो। शाखा अध्यक्ष शाशिकांत तिवारी ने कहाकि एनपी एस को एक जनवरी 2004 को लागू कर दिया गया जिससे जो 40 वर्ष से कर्मचारी काम कर रहे हैं उनकों पेंशन नहीं मिला रहा है लेकिन जो एक दिन के विधायक बन रहे हैं उनको पेंशन मिला रहा है इसी को लेकर 13 मार्च को संसद भवन मार्च किया गया था इसलिए एनपीएस को खत्म कर ओपीएस को लागू किया जाए। अनशन पर प्रतीक कुमार गिरि,कमर अली, बलिंद्र चंद्र शोखर, आजाद, अरून कुमार श्रीवास्तव, विनोद यादव, कमलेश सिंह, अभिषेक कुमार आदि कर्मी मौजूद थे। वहीं भटनी जंक्शन पर स्टेशन अधीक्षक कार्यालय के समक्ष रेल कर्मचारियों की लंबित मांगों के समाधान में रेल मंत्रालय द्वारा किए जा रहे अनुचित विलंब के विरोध में ऑल इंडिया रेल्वेमेंस फेडरेशन के आह्वान पर एनई रेलवे मजदूर यूनियन की भटनी शाखा द्वारा तीन दिन के क्रमिक अनशन की शुरुआत एनई रेलवे के सहायक मंत्री घनश्याम सिंह की अध्यक्षता में किया गया। अनशन में अमित मिश्रा, आरके यादव, अनिल कुमार, मनोज यादव, हंसराज, केके पांडेय, बच्चन, बीएन तिवारी, गणेश, राशिद, राबिया खातून, रणविजय उपाध्याय, रामरूप, मनोहर पांडेय,अनिल आदि उपस्थित थे।[sg_popup id=”5″ event=”onload”][/sg_popup]

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal