सिवान:  शहर में सड़क किनारे से हटाया गया अतिक्रमण

0
  • अतिक्रमण हटाने को लेकर तीन तीन सदस्यीय चार टीम की गई गठित
  • अतिक्रमण हटाने के दौरान काफी संख्या में पुलिस बल मौजूद

परवेज़ अख्तर/सीवान: अनुमंडल पदाधिकारी रामबाबू बैठा के द्वारा  एक पत्र जारी कर तीन तीन पदाधिकारियों की चार टीमें गठित की गई थी जिसमें एक टीम द्वारा नगर परिषद क्षेत्र में तय समय सीमा मे अतिक्रमण नहीं हटाने पर सोमवार को प्रशासन ने बलपूर्वक कार्रवाई कीया.इस दौरान प्रशासनिक अधिकारियों ने कड़ा रुख अपनाते हुए अतिक्रमणकारियों की एक न सुनी.अतिक्रमण हटवाने पहुंचे अतिरिक्त अनुमंडल पदाधिकारी अभिषेक चंदन , अंचलाधिकारी सदर दीपक श्रीवास्तव, सदर वीडियो रमेंद्र कुमार ,नगर इंस्पेक्टर जय प्रकाश पंडित के नेतृत्व में श्री नगर गंडक कार्यालय से जेपी चौक होते डाक बंगला चौराहा तक अतिक्रमण हटाया गया.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
a1
ads
WhatsApp Image 2020-11-09 at 10.34.22 PM
Webp.net-compress-image
a2

atikarmanसड़क किनारे फुटपाथ पर लगे सैकड़ों दुकानों को प्रशासन ने JCB चलाकर उजाड़ दिया. शहर में पहले दिन अस्थायी रूप से सड़क किनारे दुकान लगाने वाले फुटपाथी दुकानदारों को हटाया गया व सड़क किनारे फुटपाथ पर अतिक्रमण कर बनाये गये दुकानों को जे.सी.बी. लगाकर तोड़ा गया.अनुमंडल पदाधिकारी नगर परिषद पदाधिकारी व नगर थाना की पुलिस के साथ गंडक कार्यालय  से अतिक्रमणकारियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू की गयी. पूरे श्री नगर से जेपी. चौक तक व जेपी चौक से महादेवा रोड में सड़क पर बांस व खंभा गाड़कर बनाये गये सैकड़ो से अधिक फुटपाथी दुकानों को हटाया गया. वही स्थायी दुकानदारों के द्वारा दुकान के सामने किये गये स्थायी अतिक्रमणकारियों को भी तोड़ा गया.

ati

इस दौरान सड़क पर माल वाहक वाहन खड़ा करने वालों को हटाया गया तथा दुबारा वाहन खड़ा करने पर दंडात्मक कार्रवाई करने की चेतावनी दी गयी.सड़क पर दुकान लगाने वालों को दुबारा दुकान लगाने पर सामान जब्त करने की चेतावनी दी गयी.अधिकारियों की मानेतोशहर की सबसे व्यस्ततम सड़कों को अतिक्रमणमुक्त कराया जा रहा है.  सड़कों को अतिक्रमण मुक्त कराने का मुख्य उद्देश्य है कि यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाया जा सके.अतिक्रमण के कारण शहर में केवल जाम की समस्या उत्पन्न हो रही है.

देखते रहे लोग टूटती रही दुकाने

नगर परिषद द्वारा लगभग एक सप्ताह दिन पूर्व से ही अतिक्रमण को हटाने को लेकर लोगो को लाऊड स्पीकर के द्वारा प्रचार प्रसार के माध्यम से सूचना दी जा रही थी.इसी दौरान सोमवार को जब अतिक्रमण हटाना शुरू की गई तो लोग अपने अपने दुकान मकान के आगे लगे कर्कट, बॉस,बोर्ड ,बने शेड को हटाने लगे लेकिन पुलिस ने लोगो  की एक न सुनी.जिन लोगो का भी सड़क में कर्कट ,गुमटी था जेसीबी उसे तोड़ती गयी.

कचहरी रेलवे ढाला के समीप नही हटा अतिक्रमण

अतिक्रमण हटाने के दौरान प्रशासन कचहरी ढाला के समीप रखे गए फुटपाथ दुकान सहित अन्य दुकानों को भी हटाने पहुंची जहां दुकानदारों ने नहीं हटाने की बात कहते हुए कहा कि हम लोग रेलवे को इसकी बढ़ा देते हैं और जब तक रेलवे की आदत नहीं होगी हम यहां से दुकान नहीं हटाएंगे जिसके बाद प्रशासन दिन अतिक्रमण हटाया रामगढ़ गई.

पुलिस बल के कमी के कारण नहीं हटी सभी जगह अतिक्रमण

अनुमंडल पदाधिकारी द्वारा चार टीमें गठित कर एक साथ शहर में अतिक्रमण हटाने के लिए पत्र जारी किया गया था. लेकिन पर्याप्त मात्रा में पुलिस बल नहीं होने के कारण सभी जगहों पर अतिक्रमण नहीं हटाई गई. पुलिस की माने तो पुलिस बल

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here