डेढ़ माह बाद सऊदी से शव पहुंचते ही मचा कोहराम

0
Dead Body

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के रघुनाथपुर थाना क्षेत्र के सुल्तानपुर गांव में गुरुवार की मध्य रात्रि सुल्तानपुर निवासी शिवरतन राम के बड़े पुत्र उमेश कुमार राम (34) का शव सऊदी से उसके घर पहुंचते ही परिजनों में कोहराम मच गया। उसके माता, पिता, पत्नी एवं बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल था। आसपास के लोग परिजनों को सांत्वना दे रहे थे। उमेश कुमार का शव आने की सूचना जैसे ही ग्रामीणों को रात में मिली काफी संख्या में ग्रामीण उसके दरवाजे पर पहुंच गए। पत्नी बार-बार पति के ताबूत के पास रोते-रोते बेहोश हो जा रही थी। ज्ञात हो कि सुल्तानपुर निवासी शिवरतन राम के पुत्र उमेश कुमार राम आठ साल से सऊदी के अरब के ईस्टन प्रोजेक्ट अल्हासा कंपनी में काम करता था। वह छुट्टी पर आया था और चार माह पूर्व काम पर गया था। उमेश कुमार राम की पत्नी उर्मिला देवी ने बताया कि मेरे पति की मौत सितंबर माह के पूर्व में हुई थी जिसकी सूचना उसके दोस्तों ने दी थी। वहीं उसकी मौत के एक माह बाद कंपनी द्वारा सूचना दी गई थी। उमेश की मौत की खबर की सुन कर उन्हें देखने के लिए उसी समय से आंखें पथरीली हो गई थी और पूरा परिवार घटना की सूचना के बाद सदमे में जी रहा था। उमेश का शव आने पर शुक्रवार को परिजन द्वारा नरहन सरयू नदी घाट पर अंतिम दाह संस्कार कर दिया गया, उमेश के बड़ा पुत्र अभिषेक कुमार ने मुखाग्नि दी। उमेश घर का कमाऊ सदस्य था :उमेश कुमार राम की सऊदी अरब के सऊदी अल्हासा शहर में मजदूरी कर पूरा परिवार का पालन पोषण करता था। वह घर का कमाऊ सदस्य था।