शौचालय की टंकी बनाने के लिए खोदा गया था गड्ढा, मिट्टी धंसने के कारण मां-बेटी की हुई मौत

0

मोतिहारी: बिहार के पूर्वी चंपारण जिले में बुधवार को मिट्टी धंसने के कारण मां-बेटी की मौत हो गई. घटना जिले के केसरिया के बैरिया पंचायत स्थित वार्ड नंबर-01 की है, जहां मिट्टी में दबने के कारण दोनों की मौत हुई है. घटना सुबह 08 बजे की बताई जाती है. ग्रामीणों के अनुसार हादसे का शिकार हुईं दोनों मां-बेटी ने रोजा रखा था. मृतकों की पहचान रुखसाना (16) और उसकी मां कुशमोदा खातून (40) के रूप में की गई है.

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

शौचालय निर्माण का चल रहा था काम

मृतका अपने पीछे तीन बेटी रिजवाना, नगमा व चांदनी और पति मुस्तकीम मियां को छोड़ गई है. बता दें कि मृतका के घर के बाहर शौचालय की टंकी के निर्माण का काम चल रहा था. इस कारण भारी मात्रा में मिट्टी खोदकर गड्ढा बनाया गया था. इसी मिट्टी के धंस जाने के कारण दोनों मां-बेटी दब गईं. इधर, घटना के बाद अन्य बच्चों की चीख-पुकार सुनकर लोग मौके पर पहुंचे. ग्रामीणों ने कुदाल और फावड़े की सहायता से मिट्टी हटाकर दोनों मां-बेटी को बाहर निकाला और अस्पताल में भर्ती कराया.

मोतिहारी: बिहार के पूर्वी चंपारण जिले में बुधवार को मिट्टी धंसने के कारण मां-बेटी की मौत हो गई. घटना जिले के केसरिया के बैरिया पंचायत स्थित वार्ड नंबर-01 की है, जहां मिट्टी में दबने के कारण दोनों की मौत हुई है. घटना सुबह 08 बजे की बताई जाती है. ग्रामीणों के अनुसार हादसे का शिकार हुईं दोनों मां-बेटी ने रोजा रखा था. मृतकों की पहचान रुखसाना (16) और उसकी मां कुशमोदा खातून (40) के रूप में की गई है.

शौचालय निर्माण का चल रहा था काम

मृतका अपने पीछे तीन बेटी रिजवाना, नगमा व चांदनी और पति मुस्तकीम मियां को छोड़ गई है. बता दें कि मृतका के घर के बाहर शौचालय की टंकी के निर्माण का काम चल रहा था. इस कारण भारी मात्रा में मिट्टी खोदकर गड्ढा बनाया गया था. इसी मिट्टी के धंस जाने के कारण दोनों मां-बेटी दब गईं. इधर, घटना के बाद अन्य बच्चों की चीख-पुकार सुनकर लोग मौके पर पहुंचे. ग्रामीणों ने कुदाल और फावड़े की सहायता से मिट्टी हटाकर दोनों मां-बेटी को बाहर निकाला और अस्पताल में भर्ती कराया.