बुआ के लड़के के साथ सरयू नदी में स्नान करने गये युवक की डूबने से हुई मौत

0
saryu nadi

शव मिलने के बाद परिजनों में मचा कोहराम, रो-रोकर बुरा हाल

परवेज अख्तर/दरौली(सिवान):- बुआ के देवरानी की बरखी के दिन बुआ के लड़के के साथ सरयू नदी में नहाने के क्रम में नदी में लापता युवक का शव गुरुवार को घटनास्थल पर मिला. सूचना पर पहुंचे स्थानीय मुखिया, सीओ व थानाध्यक्ष ने शव को गोताखोर व मछुआरे के सहयोग से बाहर निकाल पोस्टमार्टम के लिए भेजवाया. मृत युवक रघुनाथपुर थाना क्षेत्र के उगो कुशहरा गांव निवासी है. वह अपनी बुआ के गांव नेतवार आया था. जहां से बुआ के लड़के साथ दरौली के पंच मंदिरा घाट सरयू नदी में स्नान करने के क्रम में नदी में लापता हो गया था. युवक का शव मिलने के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया था.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

बतादें कि रघुनाथपुर थाना क्षेत्र के उगो कुशहरा गांव निवासी रविंद्र ठाकुर की बहन की शादी नेतवार गांव में हुयी थी. बुधवार को उसकी बहन के देवरानी जिवती देवी की बरखी थी. जिसे ले रविंद्र का पुत्र अमित कुमार (22) नेतवार पहुंचा था. अहले सुबह में अपनी बुआ के लड़के संतोष ठाकुर के साथ अमित बाइक से दरौली सरयू नदी के पंच मंदिरा घाट पहुंचा. बरखी को ले वह बुआ के लड़के को स्नान कराने के लिए सरयू नदी पर पहुंचा था. जहां बुआ के लड़के को स्नान करता देख वह भी नदी में स्नान को उतर गया. स्नान करते-करते वह गहरे पानी में चला गया. जहां नदी की धारा तेज थी. देखते ही देखते अमित नदी की तेज धारा में फंस कर अचानक लापता हो गया.

यह देख बुआ के लड़के ने पहले बचाने का प्रयास किया. असफल होने के बाद वह शोर मचाने लगा. उसकी आवाज सुन अगल-बगल से लोग एकत्रित हो गये. इसके बाद अमित की खोजबीन शुरू की गई परंतु उसका कही अता-पता नहीं चला. परिजन अनहोनी की आशंका सहमें हुये थे. इधर गुरुवार की सुबह नदी किनारे टहलने गये दो मजदूरों ने शव को पानी में तैरता देख इसकी सूचना मुखिया लाल बहादुर को दी. इसके बाद गोताखोर बलेश्वर साहनी व भोला साहनी ने नाव के माध्यम से युवक के शव को नदी से बाहर निकाला. इसके बाद परिजनों को सूचना दी. शव मिलने की सूचना के बाद परिजनों में कोहराम मच गया. परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया. सूचना पर सीओ आंनद कुमार गुप्ता एवं थानाध्यक्ष संजीव कुमार भी मौके पर पहुंचे. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सीवान भेज दिया. इधर परिजनों की चीख-पुकार से वातावरण शोकाकुल हो गया था.