60 वर्ष से ऊपर के लगभग 1.08 करोड़ नागरिकों को दिया जाएगा कोविड का टीका

0
  • प्रथम चरण में हेल्थ केयर वर्करों को 399831 हेल्थ केयर वर्करों को प्रथम एवं 79212 को सेकंड डोज दी गई
  • 1 मार्च से होगी तृतीय चरण की शुरुआत
  • तृतीय चरण के लिए बना माइक्रोप्लान

छपरा: कोविड-19 महामारी से बचाव के लिए राज्य में 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। प्रथम चरण के तहत कुल 3,99,831 हेल्थ केयर वर्कर को प्रथम खुराक एवं 79212 को द्वितीय खुराक दी गई है। द्वितीय चरण के तहत कुल 1,60,496 फ्रंटलाइन वर्कर को प्रथम खुराक दी गई। इस कार्यक्रम के सफल क्रियान्वयन के लिए भारत सरकार से कोविड-19 के लिए कुल 2333880 खुराक की आपूर्ति की गई है जिसमें से 664650 खुराक की खपत की जा चुकी है। 1 मार्च से तृतीय चरण की शुरुआत की जाएगी जिसमें 60 वर्ष से ऊपर के लगभग 1.08 करोड़ नागरिकों एवं 45 से 59 वर्ष के वैसे नागरिकों का टीकाकरण किया जाएगा जो किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों पर मिलेगा निशुल्क टीका

राज्य स्वास्थ समिति के द्वारा प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा गया है कि 1 जनवरी 2022 को 60 वर्ष की उम्र पूर्ण कर रहे या उससे अधिक हो वैसे सभी नागरिकों का टीकाकरण का लाभ प्राप्त होगा। टीकाकरण की व्यापकता को देखते हुए सरकारी एवं निजी अस्पतालों (आयुष्मान भारत के अंतर्गत एवं सीजीएचएस एंपेनल्ड) में टीकाकरण का कार्य किया जाएगा। 1 मार्च से शुरू हो रहे तृतीय चरण में लक्षित लाभार्थियों का टीकाकरण प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र स्तर तक के सभी सरकारी संस्थानों में निशुल्क किया जाएगा। अगर टीकाकरण कराने के लिए निजी अस्पतालों का चयन करते हैं तो इसकी सुविधा चिन्हित निजी अस्पतालों (आयुष्मान भारत के अंतर्गत एवं सीजीएचएस एंपेनल्ड) में सशुल्क टीकाकरण की व्यवस्था की गई है।

ऑनलाइन करना होगा रजिस्ट्रेशन

लक्षित लाभार्थी टीकाकरण की सेवा प्राप्त करने के लिए स्वयं ऑनलाइन निबंधन कर सकते हैं अथवा चिन्हित स्वास्थ्य संस्थानों में ऑनसाइट रजिस्ट्रेशन कर कोविड-19 टीकाकरण की सेवा का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। रजिस्ट्रेशन के लिए लाभार्थी के पास मोबाइल नंबर एवं सरकार द्वारा अनुमान्य ने पहचान पत्र होना अनिवार्य है। यदि लाभार्थी द्वारा ऑनलाइन पंजीकरण किया जाता है तो उनके मोबाइल नंबर पर ओटीपी जाएगा। जिसके प्रविष्टि के उपरांत कोविन 2.0 पोर्टल पर सफलतापूर्वक पंजीकरण हो पाएगा। पंजीकरण के बाद पोर्टल पर लाभार्थी अपने निकटतम कोविड-19 करण केंद्र का चयन कर सकते हैं। साथ ही साथ उपलब्ध स्लॉट में से अपने लिए टीकाकरण की तिथि भी निर्धारित कर सकते हैं।

तृतीय चरण टीकाकरण के लिए बना माइक्रो प्लान

द्वितीय चरण के टीकाकरण के लिए आवश्यक कार्य योजना बना लिया गया है। जिसके तहत 15 मार्च 2021 तक 1000, 16 मार्च से 31 मार्च तक 1200, 1 अप्रैल से 15 अप्रैल तक 1500 एवं 16 अप्रैल से 30 अप्रैल तक 1600 टीकाकरण सत्र प्रति कार्यदिवस आयोजित किया जाएगा। टीकाकरण की सेवा प्राप्त करने के लिए लाभार्थियों द्वारा आधार कार्ड प्रस्तुत किया जाना अनिवार्य है।