सिवान में दूसरे दिन भी अतिक्रमणकारियों पर चला प्रशासन का डंडा

0
  • अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान कई दुकानदारों से वसूला गया जुर्माना
  • अतिक्रमण नहीं हटाने वाले लोगों का समान किया गया जप्त

परवेज़ अख्तर/सीवान:
नगर परिषद क्षेत्र में मंगलवार से शुरू हुआ अतिक्रमण हटाओ अभियान दूसरे दिन यानी बुधवार को भी जारी रहा. इस दौरान पूरी तरह अफरा-तफरी का माहौल रहा. अभियान में लगे कर्मचारियों को कुछ समय नागरिकों के विरोध का भी सामना करना पड़ा, लेकिन प्रशासन के आगे किसी की भी नहीं चली. प्रशासन की सख्ती का प्रभाव ये रहा कि जिस तरफ अभियान नहीं चल रहा था, उधर भी लोग खुद से अतिक्रमण हटाते नजर आए.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

atikaramad

सुबह करीब दस बजे अतरिक्त अनुमंडल पदाधिकारी अभिषेक चन्दन,सदर बीडीओ रमेन्द्र कुमार, नगर इंस्पेक्टर जय प्रकाश पंडित, नगर परिषद कर्मचारी व महिला व पुरूष पुलिस बल की मौजूदगी में अस्पताल मोड़ से अतिक्रमण हटाया जाने लगा. यह अभियान पकड़ी मोड़ डॉक्टर कॉलोनी तक चला. शहर के कुछ हिस्सा यानी श्रीनगर, ललित बस स्टैंड, गोपालगंज मोड़, दहा नदी पुल, जेपी चौक से डाक बंगला चौराहा तक अतिक्रमण हटाया गया था, शेष हिस्से में अवैध कब्जा हटाने का अभियान बुधवार को चला.इस दौरान मौके पर भारी भीड़ एकत्र रही.

कुछ लोग विरोध वश आगे आए, लेकिन प्रशासन ने उनकी एक नहीं सुनी. इस दौरान भीड़ में बहुत सारे नागरिकों ने एतराज जताया कि अतिक्रमण हटाने में पक्षपात किया जा रहा है.कुछ चिकित्सकों के सामने डीजी,जेनरेटर क्लीनिक के आसपास नाली के बाहर तक किए गए उस अतिक्रमण को न हटाने पर लोग नाराज दिखे. प्रशासन के लोगों ने आगे वहां भी कार्रवाई करने का आश्वासन दिया. वही जेसीबी से टीन शेड व पक्के निर्माण को हटाया गया. गुमटी को भी सड़क के किनारे स्थित नाले के पीछे कराया गया. इधर अभियान चल रहा था की उधर बहुत सारे लोग स्वयं ही अपना अतिक्रमण हटाते देखे गए.

कुछ ही घंटों पर सड़क के किनारे का हिस्सा अतिक्रमण मुक्त होता दिखाई दिया. वही गौशाला रोड में जगह-जगह अवैध रूप से कमर्शल गाड़ियां खड़ी की जाती थीं. एक जगह पर अवैध टेंपो स्टैंड चल रहा था तो दूसरी जगह पर भारी संख्या में अवैध रूप से फटाफट सेवा के रूप में चलने वाली वैन के अलावा दूसरी गाड़ियां खड़ी की जाती थीं. चारों तरफ गाड़ियां खड़ी होने के कारण आम ट्रैफिक के लिए दिक्कत बनी हुई थी. मंगलवार दोपहर पदाधिकारियों की टीम पुलिस बल के साथ पहुंची.टीम का एक्शन देखते ही भगदड़ मच गई. गाड़ी वाले अपनी गाड़ियां लेकर जहां जगह भागने लगे.