प्रशासनिक कार्रवाई : गया सेंट्रल जेल समेत औरंगाबाद और नवादा के मंडल कारा में छापेमारी, नवादा में चाकू, मोबाइल, खैनी बरामद

1

गया /नवादा/ औरंगाबाद: गया के केंद्रीय कारा समेत औरंगाबाद, नवादा व अन्‍य कारागार में मंगलवार की अल सुबह छापेमारी की गई।  डीएम और एसपी के नेतृत्‍व में छापेमारी की गई। करीब दो घंटे तक जेल को खंगाला गया। इससे अफरातफरी की स्थिति बनी रही। इस दौरान केवल नवादा मंडल कारा से आपत्तिजनक सामग्री बरामद की गई। गया केंद्रीय कारा और औरंगाबाद मंडल कारा में कुछ भी आपत्तिजनक नहीं मिला।जानकारी के अनुसार गया के डीएम अभिषेक सिंह व एसएसपी राजीव मिश्रा सहित दो दर्जन प्रशासनिक अधिकारियों का काफिला अलसुबह जेल पहुंचा। सुरक्षा के पुख्‍ता इंतजाम के बीच जेल के प्रत्येक सेल और बैरक की पूरी जांच-पड़ताल की गई। करीब दो घंटे तक चले सर्च अभियान में पुलिस के हाथ कुछ नहीं लगा। जांच पड़ताल के बाद छापेमारी टीम लौट गई। वरीय पुलिस अधीक्षक राजीव मिश्रा ने बताया कि छापामारी की शुरुआत सुबह 5:15 बजे की गई।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

प्रशासनिक अधिकारियों का काफिला जेल के अंदर इस समय दाखिल हुआ जब अधिकांश बंदी अपने-अपने बैरक में थे। अलग अलग टीम में बांट कर अधिकारियों ने बैरक और सेल की जांच की। लेकिन पुलिस को कहीं से भी कुछ नहीं मिला।चाकू, मोबाइल, खैनी बरामद- नवादा में डीएम यशपाल मीणा के नेतृत्‍व में मंडल कारा के सभी वार्ड की जांच की गई। इस दौरान एक खराब मोबाइल, छह मोबाइल चार्जर, दो चाकू, दो ईयरफोन, एक ब्‍लेड, 21 खैनी की चुनौटी, खैनी, ताश के पत्‍ते बरामद किए गए। छापेमारी टीम में प्रशिक्षु आइपीएस चंद्रप्रकाश, एएसपी मुख्‍यालय महेंद्र कुमार बसंत्री, सिविल सर्जन डॉ. विमल प्रसाद सिंह, संतोष झा समेत कई थानाध्‍यक्ष शामिल थे। टीम ने काफी देर तक वार्डों की जांच-पड़ताल की।औरंगाबाद मंडल कारा में डीएम सौरभ जोरवाल और एसपी सुधीर कुमार पोरिका के नेतृत्‍व में की गई छापेमारी में किसी तरह का आपत्तिजनक सामान नहीं मिला। डीडीसी अंशुल कुमार और एएसपी अभियान दुर्गेश कुमार छापेमारी टीम में शामिल थे।

1 टिप्पणी

Comments are closed.