11 दिन बाद मृतक का शव विदेश से पहुंचा नवलपुर, मचा कोहराम

0
Dead Body

परिजनों में मचा कोहराम, रो-रो कर बुरा हाल

समुंद्र के किनारे पाइप बिछाने के दौरान सुरंग में पानी आने से हुई थी मौत

घटना के पश्चात परिजनों पर टूटा दु:खों का पहाड़

परवेज अख्तर/सिवान:- जिले के हुसैनगंज थाना क्षेत्र के नवलपुर निवासी बलिराम मांझी के 35 वर्षीय पुत्र विश्वकर्मा मांझी का ओमान में पाइप लाईन बिछाने के दौरान सुरंग में पानी घुसने से हुई मौत के पश्चात 11 दिन बाद शव गांव पहुंचा. 20 नवंबर को विदेश जहाज से मृतक का शव पटना हवाई अड्डा पहुंचा.साथ में कंपनी का एक कर्मी भी पहुंचा था. बहरहाल कंपनी ने शव को अंतिम संस्कार के लिये 30 हजार रूपये का सहयोग किया. वहीं पटना से एंबुलेंस से शव को बिती रात 9 बजे मृतक के पैतृक गांव पहुंचा. शव पहुंचते ही परिजनों में कोहराम मच गया. माता-पिता समेत मृतक की पत्नी व बच्चों का रो-रोकर हाल बेहाल है. आपको बता दें कि बिते 9 नवंबर को ओमान में समुद्र किनारे दर्जनभर मजदूर पाईप लाईन बिछा रहे थे. तभी सुरंग में पानी आ गया. जिससे दम घूंटने से मौत हो गयी थी. मुखिया नूरसब्बा के प्रतिनिधि व पूर्व मुखिया बसीरुद्दीन सिद्दीकि ने कबीरअंत्येष्टि योजना के तहत तीन हजार रुपये की सहायता की. वहीं बड़रम पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि रवींद्र मांझी ने भी नगद सहायता दिया. मौके पर जदयू नेत लालबाबु कुशवाहा, राजस्व कर्मचारी मनोज सास, सरपंच नीतू यादव, पूर्व सरपंच शंभूनाथ सिंह, बुधन सिद्दीकि सहित सैकड़ों लोग उपस्थित रहे.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal