बेलगाम महंगाई एवं नीट से ओबीसी आरक्षण खत्म करने के खिलाफ ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन के कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का फूंका पुतला

0

परवेज अख्तर/सिवान: ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन (एआईएसएफ) के बैनर तले देश मे बढ़ती महंगाई और नीट से ओबीसी का आरक्षण खत्म करने के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का पुतला दहन किया गया। लगभग 12 बजे एआईएसएफ के कार्यकर्ता शहर के बड़हरिया स्टैंड बाईपास मोड़ के पास नारा लगाते हुए रोषपूर्ण प्रदर्शन किया। इस दौरान सभा को संबोधित करते हुए एआईएसएफ के राष्ट्रीय सचिव सुशील कुमार ने कहा कि जिस तरीके से देश मे पेट्रोल- डीजल,सरसों तेल एवं आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि हो रही है। यह गरीब और मध्यम वर्गीय परिवारों की कमर तोड़ने वाली है।तेल की कीमतों में वृद्धि से सभी वस्तुओं के मूल्य बढ़ते जा रहे हैं।चाहें सब्जियों के दाम हो या सरसों तेल या दाल इन सभी खाने -पीने की सामानों की कीमतें आसमान छू रही है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

पेट्रोल की कीमतों में वृद्धि के कारण किराये भाड़े में बेतहाशा वृद्धि के चलते एक जगह से दूसरे जगह आने जाने में लोगो को कठिनाई हो रही है। यह सरकार सिर्फ अडानी और अंबानी के फायदे के लिए ही सरकार काम कर रही है।  एआईएसएफ के जिला सचिव शशि कुमार ने कहा कि मोदी सरकार ने नीट से ओबीसी के आरक्षण को खत्म कर दिया है।जिससे पिछड़े वर्ग के छात्रों को सीधे-सीधे उच्च शिक्षा से वंचित करने के लिए मोदी सरकार सरकार काम कर रही है।भाजपा सरकार नहीं चाहती है कि देश का गरीब और पिछड़ा वर्ग उच्च शिक्षा हासिल करें। देश की मुख्य धारा से जुड़े।आज भी इनकी सामंती सोंच के द्वारा पिछड़ों को मजदूर बनाने के लिए तरह- तरह किये जा रहे है।

अध्यक्षता करते हुए एआईएसएफ के जिलाध्यक्ष नीरज यादव ने कहा कि नीट से ओबीसी के आरक्षण को खत्म कर इन लोगो ने समाजिक न्याय का गला घोंटने का काम किया हैं।ये सामाजिक न्याय के महापुरुषों की जयंतियों पर दिखावा जरूर करेंगे लेकिन असली चेहरा जगजाहिर है। यही लोग कांग्रेस सरकार में महंगाई बढ़ने पर रोड पर जनता को गुमराह करने के लिए रोड पर आ जाते थे लेकिन सरकार में आने के बाद इनका चेहरा सबके सामने है।प्रदर्शन में जिला सहसचिव आशुतोष कुमार, अमित कुमार,शैलेश कुमार,गुड्डू यादव,बिट्टू कुमार गुप्ता,पवन कुमार,सुदामा साह, गुड्डू कुमार विजय प्रसाद,जोखन कुमार समेत दर्जनों लोग मौजूद थे