अमनौर ग्रिड से कम नहीं हो रहा पानी, बिजली की किल्लत रहेगी जारी

0

परवेज़ अख्तर/सिवान:
जिले में दो दिन से बिजली की कटौती से उपभोक्ता परेशानी झेल रहे हैं। पूर्व में जहां जिले में बिजली 20 से 22 घंटे तक नियमित रहती थी वहीं बिजली अब 10 से 12 घंटे भी नियमित रूप से लोगों को उपलब्ध नहीं हो रही है। इस कारण जहां उमस भरी गर्मी से लोग परेशान हैं वहीं बिजली की आंखमिचौनी ने आग में घी डालने का काम किया है। बिजली लोगों को कब मिलेगी और कब कटेगी इसके बारे में अधिकारियों के पास कोई जवाब नहीं है। इन सब के बावजूद अभी जिले के उपभोक्ताओं को कुछ दिन तक और समस्या से जूझना होगा। अमनौर ग्रिड में पानी कम नहीं होने के कारण ग्रिड से सप्लाई पूरी तरह से ठप है और इसका असर जिले में देखने को मिल रहा हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
ads

विभाग के अनुसार पानी अभी बढ़ रहा हैं जब तक पानी निकलेगा नहीं तब तक ग्रिड में मरम्मत का काम करने में परेशानी है।सिवान । जिले में दो दिन से बिजली की कटौती से उपभोक्ता परेशानी झेल रहे हैं। पूर्व में जहां जिले में बिजली 20 से 22 घंटे तक नियमित रहती थी वहीं बिजली अब 10 से 12 घंटे भी नियमित रूप से लोगों को उपलब्ध नहीं हो रही है। इस कारण जहां उमस भरी गर्मी से लोग परेशान हैं वहीं बिजली की आंखमिचौनी ने आग में घी डालने का काम किया है। बिजली लोगों को कब मिलेगी और कब कटेगी इसके बारे में अधिकारियों के पास कोई जवाब नहीं है।

WhatsApp Image 2020 10 06 at 6.33.22 PM

इन सब के बावजूद अभी जिले के उपभोक्ताओं को कुछ दिन तक और समस्या से जूझना होगा। अमनौर ग्रिड में पानी कम नहीं होने के कारण ग्रिड से सप्लाई पूरी तरह से ठप है और इसका असर जिले में देखने को मिल रहा हैं। विभाग के अनुसार पानी अभी बढ़ रहा हैं जबतक पानी निकलेगा नहीं तब तक ग्रिड में मरम्मत का काम करने में परेशानी है।पंप से निकाला जा रहा पानी बतादें कि अमनौर ग्रिड में पानी घुसने से ग्रिड पूरी तरह से ठप है। इसके अंदर से पानी निकालने के लिए करीब दस से अधिक पंप लगाया गया है। इसके बावजूद पानी कम नहीं हो रहा है।

कहते हैं अधिकारी

अमनौर ग्रिड में पानी अभी बढ़ रहा है। जबतक ग्रिड में पानी कम नहीं होता तब तक बिजली की समस्या रहेगी। वैकल्पिक व्यवस्था के तहत जिले में रोटेशन के आधार पर बिजली की सप्लाई की जा रही है।

विक्की कुमार विद्युत कार्यपालक अभियंता।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here