भगवान विष्णु के अनंत रूप की हुई पूजा, मंदिरों में उमड़ी रही भीड़

0
rup

परवेज अख्तर/सिवान : जिला मुख्यालय समेत ग्रामीण क्षेत्रों में गुरुवार को अनंत चतुर्दशी का त्योहार मनाया गया। इस दौरान भगवान विष्णु के अनंत रूप की पूजा की गई, साथ हीं श्रद्धालुओं ने व्रत रखकर पूरे परिवार के सुखों में वृद्धि और स्वास्थ्य लाभ की कामना की। इस संबंध में ललित बस स्टैंड स्थित महावीर मंदिर के पुजारी सतेंद्र पांडेय ने बताया कि अनंत चतुर्दशी की पूजा करने से कर्ज में फंसे और विवादों में उलझे लोगों की समस्या खत्म होती है। साथ हीं सुखों में वृद्धि होती है और स्वास्थ्य लाभ भी मिलता है। मान्यता है कि अनंत चतुर्दशी का व्रत कर अनंत भगवान की पूजा अर्चना करने से घर में धन धान्य की वृद्धि होती है। बताया कि यह पर्व भगवान की अनंतता का द्योतक है। भक्ति भाव के साथ भगवान की आराधना और पूजा आदि करने से अनन्त भगवान मनुष्य की सारी मनोकामनाएं पूरी करते हैं। मान्यताओं के अनुसार व्रती स्त्री पुरूष कथा सुनने के बाद सिर्फ एक ही बार अन्न ग्रहण करते हैं। इस दिन पूजा के बाद 14 गांठें बनाकर अपने बाजू पर धागा बांधा जाता है। ये 14 गांठें हरि द्वारा उत्पन्न 14 लोकों चौदह लोकों तल, अतल, वितल, सुतल, तलातल, रसातल, पाताल, भू, भुवः, स्वः, जन, तप, सत्य, मह की रचना की प्रतीक हैं। ऐसी मान्यता है कि इस व्रत को यदि 14 वर्षों तक किया जाए, तो व्रती को विष्णु लोक की प्राप्ति होती है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal