‘ऐ मुखिया जी’ गाना बजते ही DJ पर चढ़ गए पूर्व मुखिया, बार बालाओं संग लगाए ठुमके

0

पटना: बिहार में कोरोना महामारी के बीच खुलेआम इन दिनों धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। प्रदेश में धीमे पड़ी कोरोना की लहर के बाद लोग इसे खत्म मानकर जमकर कोरोना गाइड लाइन तोड़ते नजर आ रहे हैं। नीतीश सरकार के आदेशों की भी किसी को परवाह नहीं है। मजे की बात तो यह है कि प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री तक ने जिसे कोरोना महामारी और वैक्सीन को लेकर जागरूकता की जिम्मेदारी जिसे सौंपी वही इसे तोड़ते नजर आए। दरअसल बिहार में इन दिनों शादी समारोह के खूब वीडियो वायरल हो रहे हैं। कहीं बार बालाओं को बुलाकर डांस करवाया जा रहा है तो कहीं भीड़ इकट्ठा करके डीजे की धुन पर गांव के मुखिया ही कोरोना गाइडलाइन को धता बता रहे हैं। ऐसा ही एक वीडियो फिर वायरल हुआ है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

वायरल वीडियो में पूर्व मुखिया गणेश बढ़ई डीजे की धुन पर नाच रही डांसर के साथ नजर आ रहे हैं। शादी समारोह में जैसे ही डीजे से सजी गाड़ी पहुंची तो लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई। डीजे पर पवन सिंह का गाना ऐ मुखिया जी मन डोले की डोले गीत बजा तो पूर्व मुखिया गाड़ी पर चढ़ गए और नाचने लगे। पूर्व मुखिया के डांस को वहां मौजूद भीड़ ने अपने कैमरे में कैद करके वायरल कर दिया। वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि अनलॉक वन में भी गाइडलाइन के अनुसार शादी में केवल 20 लोगों को ही बुलाने की अनुमति है इसके बाद भी भीड़ इकट्ठा की है। डीजे पर पाबंदी के बाद भी डीजे बजाया और बार बालाओं को बुलाकर नचवाया गया।

फिलहाल पूर्व मुखिया का वायरल वीडियो इलाके में चर्चे का विषय बन गया है। बताया जा रहा है कि पूर्व मुखिया की पत्नी पवन देवी वर्तमान में महिषी उत्तरी पंचायत की मुखिया है। सूत्रों के अनुसार पूर्व मुखिया के परिवार में शादी थी। बारात के साथ डीजे और बार बालाएं आईं थीं। बता दें कि गणेश बढ़ई वर्ष 2011 से 2016 तक महिषी उत्तरी पंचायत के मुखिया रहे थे। उसके बाद से उनकी पत्नी लगातार मुखिया है। वायरल वीडियो को लेकर दंडाधिकारी सह जिलाधिकारी ने कहा है कि शादी समारोह में 20 लोगों को शामिल होने की अनुमति रहेगी। डीजे और बारात जुलूस पर रोक रहेगी। शादी समारोह की सूचना दो दिन पहले स्थानीय थाना को देनी होगी। आदेश की अवहेलना पर कार्रवाई की जाएगी।

क्या कहते हैं पूर्व मुखिया

पूर्व मुखिया गणेश बढ़ई ने कहा कि घर में शादी जैसे जश्न का माहौल था, कुछ लोगों के द्वारा मुझे जबरन मंच पर चढ़ा दिया गया। मुझे फंसाने की साजिश विरोधी पक्ष के लोगों द्वारा की जा रही है। शादी समारोह में किसी भी तरह से गाइडलाइन का उल्लंघन नहीं किया गया है।