दरौली में सड़क दुर्घटना में आशा कार्यकर्ता की मौत

0

श्याम कश्यप/सिवान : जिले के दरौली थाना क्षेत्र के मौजा गांव के समीप शुक्रवार की सुबह सड़क दुर्घटना में आशा कार्यकर्ता की मौत हो गई। घटना से गुस्साए ग्रामीणों ने मुआवजे की मांग को ले दरौली-गुठनी मुख्य पथ को जाम कर दिया। मृतका की पहचान थानाक्षेत्र के अगसरा निवासी बच्चा तिवारी की पत्नी शकुंतला कुंवर के रुप में हुई है। स्वजनों ने बताया कि शकुंतला कुंवर दरौली प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में आशा कार्यकर्ता के पद पर कार्यरत थी। शुक्रवार की सुबह करीब साढे़े नौ बजे पैदल ही ड्यूटी जा रही थी। ज्याेंही वह मौजा गांव के समीप पहुंची थी कि रघुनाथपुर की ओर से आ रहे तेज रफ्तार के ट्रक ने उसे रौंद दिया। जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई। घटना के बाद ट्रक चालक गाड़ी छोड़कर फरार हो गया। वहीं घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने मुआवजे की मांग को ले दरौली-गुठनी मुख्य मार्ग को जाम कर प्रदर्शन किया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

घटना की जानकारी मिलते ही दरौली थानाध्यक्ष विनोद कुमार सिंह मौके पर पहुंचकर आक्रोशितों को समझा-बुझाकर जाम खाली कराया तथा शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। सड़क जाम साढ़े नौ बजे से 11 बजे तक रहा। इस दौरान करीब डेढ़ घंटे तक आवागमन बाधित होने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं घटना की जानकारी होने पर बीडीओ लालबाबू पासवान तथा सीओ आनंद कुमार गुप्ता ने आपदा राहत के तहत 4 लाख रुपये दिलाने तथा पारिवारिक लाभ के तहत 20 हजार की राशि देने का आश्वासन दिय। मृतका को एक पुत्र आलोक कुमार तिवारी तथा दो पुत्री है, जिसमें एक पुत्री नीरू कुमारी की शादी हो चुकी है। घटना के बाद मृतका के पुत्र आलोक कुमार एवं पुत्री सपना कुमारी समेत अन्य स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।