विभिन्न संगठनों ने मनाई सम्राट अशोक की जयंती

0
ashok jyanti

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के जीरादेई, दारौंदा, आंदर समेत विभिन्न प्रखंडों में विभिन्न संगठनों ने शुक्रवार को सम्राट अशोक की जयंती मनाई। इस मौके पर उनके चित्र पर माल्यार्पण कर उनके पदचिह्नों पर चलने का संकल्प लिया गया। वक्ताओं ने सम्राट अशोक को इतिहास के महानायक बताया। जीरादेई प्रखंड तितिरा टोले बंगरा गांव में स्थित तितिर स्तूप पर शुक्रवार को सम्राट अशोक की जयंती मनाई गई। सर्वप्रथम उनके चित्र पर माल्यार्पण कर भगवान बुद्ध की वंदना की गई। जयप्रकाश उच्च विद्यालय विजयीपुर के प्रधानाध्यापक कृष्ण कुमार सिंह ने उनके जीवन पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए बताया कि अशोक सम्राट भारतीय इतिहास के महान नायक थे। उनकी प्रशासकीय व्यवस्था एवं जनसरोकार के कार्य आज भी भारतीय जनमानस के पटल पर बनी हुई है। रजनीश कुमार मौर्य ने बताया कि सम्राट अशोक का जीवन एक तरह से महात्मा बुद्ध के जीवन काल में आए क्रमिक बदलाव का ही प्रस्तुतिकरण है। प्रमोद बौद्ध ने महात्मा बुद्ध कीर्तिमानों पर प्रकाश डाला। मौके पर अर्जुन कुशवाहा, माधव शर्मा, पंडित देवता मुन्नी पांडेय, सच्चिदानंद सिंह, अंगद प्रसाद, मुसाफिर कुशवाहा, अंकित मिश्रा, कोमल सिंह, मनोज राम, राधेश्याम कुशवाहा, हरिशंकर चौहान, कलावती देवी, खुशबू कुमारी, लक्ष्मी कुमारी आदि उपस्थित थे। लकड़ी नबीगंज के नरहरपुर मध्य विद्यालय में वरीय शिक्षक जितेंद्र सिंह उर्फ जीके सिंह के नेतृत्व में सम्राट अशोक की जयंती उनके तैल चित्र पर माल्यार्पण कर मनाई गई।