सिवान मंडल कारा में बंद अयूब खान को भेजा गया भागलपुर सेंट्रल जेल

0
  • सुरक्षा का हवाला देकर भारी सुरक्षा के बीच भेजा भागलपुर सेंट्रल जेल
  • तीन युवकों की अपहरण कर हत्या मामले में अभी अनुसंधान जारी

✍️परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ:
एक साथ तीनों युवकों के अपहरण कर हत्या कर देने के मामले में मंडल कारा में बंद मुख्य आरोपित आरोपी अयूब खान को भारी सुरक्षा के बीच भागलपुर सेंट्रल जेल में शिफ्ट किया गया है. सीवान जेल प्रशासन सुरक्षा का हवाला देते उन्हें भागलपुर में शिफ्ट किया है. बतादें कि तीन युवकों की अपहरण कर हत्या मामले में अनुसंधान जारी है. पुलिस इस घटना में शामिल अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है.वहीं अनुसंधानकर्ता ने फरार चल आरोपितों के विरुद्ध न्यायालय वारंट के लिए आवेदन दिया है. जहां न्यायालय द्वारा सभी अभियुक्तों के नाम-पता का सत्यापन सहित रिपोर्ट देने की मांग की गई है.बताते चलें कि बीते सात नवंबर की दोपहर एक साथ तीन मित्र विशाल सिंह, अंशु और प्रमेंद्र सिंह की अपहरण कर ली गई थी.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

तीन युवकों विशाल सिंह, अंशु सिंह एवं इनके ड्राईवर प्रमेंद्र यादव के अपहरण के संबंध में नगर थाना क्षेत्र के रामनगर निवासी अपहृत विशाल सिंह की मां सुनिता सिंह ने अज्ञात अपराधकर्मियों के विरुद्ध दर्ज नगर थाना कांड संख्या 631/2021 विरुद्ध दर्ज कर कांड के उद्भेदन हेतु एक विशेष टीम का गठन किया गया था. जिसमें शहर के शुक्ला टोली से गठित टीम द्वारा इस कांड में संदीप कुमार की संलिप्तता पाते हुए गिरफ्तार कर 23 नवंबर को जेल भेज दिया था. कांड में अनुसंधान करते हुए सीवान पुलिस द्वारा एसटीएफ के सहयोग से अयूब खान उर्फ बड़े भाई को पूर्णिया जिले के वसी थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया.

गिरफ्तार अयूब खान ने पूछताछ के क्रम में अपने अन्य साथियों के साथ अपहृत विशाल सिंह, अंशु सिंह एवं इनके ड्राईवर प्रमेंद्र यादव को घटना सात नवंबर को ही बड़हरिया थाना क्षेत्र के बीबी के बंगरा गांव से धोखा से चाय में नशीला पदार्थ पिलाकर बेहोश कर गला में गमछा से कसकर गाड़ी में हत्या कर शव को टुकड़े-टुकड़े कर सिसवन थाना क्षेत्र के सांईपुर तिनमुहानी सरयू नदी घाट पर कपड़ा जूता सहित अन्य सामान डाल देने की बात स्वीकार की थी. पूछताछ के बाद पुलिस ने अयूब खान को न्यायालय के आदेश पर मंडल करा भेज दिया था.इधर मंडल कारा में सुरक्षा को लेकर पुलिस ने न्यायालय से आदेश लेकर अयूब खान को भागलपुर सेंट्रल जेल भारी सुरक्षा के बीच भेज दिया. यहां बतादें इस मामले में अभी अनुसंधान चल रहा है.