सिवान में छह माह से नहीं बना रहा आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड

0
aayusmaan bharat

परवेज़ अख्तर/सिवान : कोरोना संकट के बीच करीब छह माह से नया आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड नहीं बना रहा है। जिससे गरीब मरीजों को परेशानियों का सामना करना पड़ा रहा है। प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना गरीब जरूरतमंद के बेहतर इलाज के लिए है। इस योजना के तहत गरीब व जरूरतमंद लोगों को इलाज सहित ऑपरेशन की सुविधा अस्पतालों में दी जाती है। बता दें कि गरीब जब बीमार होता है तो आर्थिक स्थिति कमजोर होने व कार्ड नहीं होने दोहरी परेशानी उठानी पड़ रही है। अगर कोई कमाने वाला सदस्य ही बीमार हो जाता है तो उनकी और परेशानी बढ़ जाती है। इस स्थिति में अगर इलाज का खर्च मिल जाए तो उनके लिए बहुत बड़ा सहारा हो जाता है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

योजना के तहत होता है निःशुल्क इलाज

आयुष्मान भारत योजना गरीब मरीजों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ सेवा निश्शुल्क मुहैया करने के मकसद से संचालित किया जा रहा है। इसमें सभी सरकारी अस्पताल समेत शहर के प्रमुख निजी अस्पताल भी शामिल हैं। जहां मरीजों को निशुल्क इलाज किया जा रहा है।

नहीं मिला पा रहा आंकड़ा

बता दें कि विभाग के किसी अधिकारी के पास ये आंकड़ा नहीं मिला पा रहा है। अधिकारी यह भी नहीं बता पा रहे है कि अभी तक कितने लोगों का आयुष्मान भारत कार्ड बना हैं और कितने लोगों को इलाज किया जा चुका है।

कहते हैं अधिकारी

अभी छह माह से कार्ड बनना बंद हैं। जबकि योजना के तहत कार्ड वाले लाभार्थियों को अधिकांश सुविधाएं दी जा रही है।

डॉ. यदुवंश कुमार शर्मा सिविल सर्जन, सिवान