बाबूजान हत्याकांड: अज्ञात के विरुद्ध दर्ज हुई प्राथमिकी

0
fir

छोटे भाई मो. मासूम ने नगर थाने में दिया आवेदन

28 नवंबर को अपराधियों ने सरेआम गोलियों ने भुन दिया था बाबूजान को

परवेज अख्तर/सिवान:- बाबूजान हत्याकांड मामले में दो दिन बाद पुलिस ने अज्ञात अपराधियों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कर लिया है. प्राथमिकी नगर थाने में दर्ज की गयी है. मृतक बाबूजान के भाई मो. मासूम उर्फ सोनू ने पांच से सात अज्ञात अपराधियों के विरूद्ध थाने में आवेदन में दिया है. नगर थाने के इंस्पेक्टर जयप्रकाश पंडित ने बताया कि पुलिस प्राथमिकी दर्ज कर सराय ओपी थाने के सहयोग से मामले की जांच कर रही है. बतातें चलें कि 28 नवंबर की शाम करीब चार बजे अपराधियों ने सराय ओपी थाना क्षेत्र के मखदूम सराय स्थित गौसुलवारा अरबी कॉलेज के समीप अपराधियों ने दौड़ाकर बाबूजान के सिर में गोली मारकर हत्या कर दी थी. हत्या से पूर्व अपराधियों के साथ सैनिक पब्लिक स्कूल के समीप बाबूजान से हाथापाई भी हुई थी. उस वक्त मृतक बाबूजान को किसी व्यक्ति ने फोन कर घर से बुलाया था. उसके बाद वह रइस नामक व्यक्ति के साथ बाइक से घर से निकला था. मृतक का तेलहाटा बाजार स्थित मिरचाई साह तकिया के समीप सिमरन ग्लास हाऊस हार्ड वेयर की दुकान है.

सीसीटीवी फुटेज से अपराधियों की पहचान नहीं

पुलिस को प्राप्त घटना स्थल के समीप सीसीटीवी फुटेज से अबतक अपराधियों की पहचान नहीं हो सकी है. हांलाकि पुलिस घटना के हर पहलुओं की बारिकी से जांच कर रही है. इधर मृतक के परिजनों ने बताया कि लड्डन हत्याकांड के अभियुक्त जावेद की मौत के बाद बाबूजान ने भी पुलिस से जान के सुरक्षा की गुहार लगायी थी. हालांकि पुलिस ऐसे किसी आवेदन से इंकार करती है. पुलिस को प्राप्त सीसीटीवी फुटेज में दो अपराधी बाबूजान को सरेआम सड़क पर दौड़ाकर पिस्टल से गोली मारते हुए दिख रहे हैं. सीसीटीवी फुटेज में जहां गोली चलाते हुए अपराधी के अनयत्र के होने की सूचना मिल रही है, वहीं पिछे पिस्टल को कॉक करते अपराधी के स्थानीय होने की चर्चा मार्केट में है.