महाराजगंज में गांव के रास्ते को बांस-बल्ला से घेर प्रवेश पर लगाई रोक

0
bash se geda

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के महाराजगंज प्रखंड के कपिया जागीर गांव के ग्रामीणों ने कोरोना वायरस फैलने के डर से गांव को बांस-बल्ला लगा बाहरी लोगों के प्रवेश पर रोक लगा दी है। मरकज से महाराजगंज के कनेक्शन की वायरल हो रही खबर के बाद इलाके के लोग काफी सहमे हुए हैं। इसी बीच एक फल बेचने वाला संदिग्ध युवक गांव में ठेला लेकर घुस गया। यह देख ग्रामीणों ने उसे खदेड़ दिया। लेकिन कुछ देर बाद फिर वह दूसरे रास्ते से गांव में प्रवेश कर गया। यह जानकारी मिलने के बाद ग्रामीणों ने गांव के अंदर प्रवेश करने वाले सभी रास्ते को बंद कर दिया। ग्रामीण शशिकांत तिवारी, दिवाकर तिवारी,अमरेश सिंह, पवन कुमार तिवारी, मनोहर कुमार, अजीत कुमार,चंदन कुमार, दीपक तिवारी, रविकांत, नीतीश तिवारी, चुनु तिवारी, रत्नेश कुमार तिवारी, भानू सिंह, चंचल सिंह, नितिन कुमार सिंह, हरिओम सिंह, देव कुमार वर्मा व रितिक तिवारी ने बताया कि जब पूरे देश में लॉकडाउन है तो गांव में किसी के आने-जाने की क्या जरूरत है। इसलिए बाहरी लोगों के प्रवेश पर आज से रोक रहेगी। ग्रामीणों का कहना था कि वायरल हो रहे मैसेज के अनुसार महाराजगंज के लोग भी मरकज से जुड़े है। इसके बाद गांव के लोग काफी सहम गए हैं। एक किलोमीटर की दूरी के वावजूद लोग जरूरी सामान लेने भी बाजार भी नहीं जा रहे हैं।क्वारंटाइन के लिए भेजे गए 12 लोग सिसवन। प्रखंड के सीमावर्ती प्रखंड रधुनाथपुर में कोरोना वायरस के मरीज मिलने से प्रखंड प्रशासन अलर्ट हो गया है। प्रशासन 15 से 21 मार्च के बीच विदेश से आए 12 लोगों को क्वांरटाइन के लिए शनिवार को सीवान भेजा है। बीडीओ रंजीत कुमार सिंह ने बताया कि विदेश से कुल 18 लोग प्रखंड में आए हैं। इनमें से 12 लोगों को क्वांरटाइन के लिए सीवान भेजा गया है। इनका ब्लड सैंपल लेने के बाद जांच के लिए पटना भेजा जाएगा। अगर इन्हें कोरोना वायरस पॉजीटिव आता है तो इन्हें इलाज के लिए पटना भेजा जाएगा। रिपोर्ट निगेटिव आने पर वापस घर चले जाएंगे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
a1
ads
WhatsApp Image 2020-11-09 at 10.34.22 PM
adssssssss
a2