भगवानपुर: भतीजे के फर्द बयान पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज

0

गिरफ्तार हत्यारा भेजा गया जेल

परवेज़ अख्तर/सिवान:
भगवानपुर में गुरुवार की संध्या चाकूबाजी में हुई मिट व्यवसाई की हत्या में तीन लोगों को आरोपी बनाया गया है.भतीजे वसीम पिता इमाम हुसैन के फर्द बयान पर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर छापेमारी कर रही है.वसीम ने अपने फर्द बयान में कहा है कि संध्या थाना क्षेत्र के कौड़िया तख्त निवासी सकलदेव साह, हरेराम साह तथा मुन्ना साह मिट को लेकर मेरे चाचा जाकिर मियां से  जबरदस्ती मिट लेने के लिए दबाव बना रहे थे.मिट नही देने पर सकलदेव साह तथा हरे राम साह दोनों पिता पुत्र  उनका हाथ पकड़ लिए.सकलदेव साह ने अपने पुत्र मुन्ना साह को आदेश दिया कि चाकू मार कर खत्म करो.मुन्ना साह अपने कमर से चाकू निकाल कर मार दिया.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

उनके चीखने चिलाने पर लोगों की भीड़ को देख दो लोग फरार हो गए.जबकि हत्यारे मुन्ना साह को पकड़ कर लोगों ने पुलिस के हवाले कर दिया.उन्हें घायल अवस्था मे हमलोग बसंतपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए.जहाँ से सिवान रेफर कर दिया गया.सिवान में सदर अस्पताल के चिकित्सक ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.हत्यारे मुन्ना साह ने बताया कि हमलोग दोनों आदमी खैरवा बाजार पर ताड़ी पीकर लौटे थे.मुझे उससे 5 सौ रुपया लेना था. उसी को लेकर विवाद बढ़ गया.जिसमें उसने मेरे ऊपर हमला कर दिया.मैने अपने बचाव में हमला किया.पुलिस हत्यारे आरोपी को शुक्रवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दी.मृतक तथा हत्यारा दोनों एक ही खेमा के लोग बताए जाते है.

पोस्टमार्टम के बाद शव पहुँचते हीं मचा कोहराम

हत्या के बाद जाकिर मियां का शव गांव पहुंचते ही कोहराम मच गया. परिजनों के हृदय विदारक चीत्कार से पूरे गांव में कोहराम मच गया। सांत्वना देने पहुंचे लोगों की आँखे नम हो गई.सांत्वना पहुंचे लोगों में हीरा लाल मांझी,पूर्व बीडीसी कन्हैया प्रसाद,मोहमद वसीम वार्ड सदस्य सहित बड़ी संख्या में लोग दरवाजे पर पहुंच कर सांत्वना देते देखे गए.