भगवानपुर हाट: पानी भरे गड्ढे में उपलाता मिला छात्रा का शव

0
nadi me duba
  • छात्रा सोमवार को पार्ट वन की परीक्षा देने छपरा गई थी, जिसमें वह कदाचार के आरोप में निष्कासित कर दी गई थी
  • छात्रा के मुंह से झाग निकला हुआ था
  • गड्ढे के पानी में उपलाता हुआ शव देखा
  • 08 बजे सुबह से घर से लापता हुई थी युवती
  • 02 सौ मीटर की दूरी पर चंवरी में मिला शव

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के भगवानपुर हाट थाना क्षेत्र के पिपरहियां गांव में मंगलवार को घर के बगल के चंवरी में पानी भरे गड्ढे में डूबने से एक छात्रा की मौत हो गई। उसका शव पानी में उपलाता हुआ मिला। इस घटना के बाद पूरे गांव में सनसनी फैल गई। मृतका अखिलेश्वर सिंह की एकलौती पुत्री सोनी कुमारी थी। युवती की मौत की खबर मिलते ही कोहराम मच गया। घटना की सूचना मिलने पर थानाध्यक्ष पंकज कुमार घटनास्थल पर पहुंच शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सीवान सदर अस्पताल भेज दिया। पुलिस ने बताया कि प्रथम दृष्टया छात्रा की मौत संदेहास्पद लग रही है। क्योंकि उसके मुंह से झाग निकला हुआ था। कहा कि डॉक्टर से मंतव्य की मांग की गई है। वहीं परिजनों ने बताया कि वह बीए पार्ट वन की छात्रा थी। सोमवार को वह पार्ट वन की परीक्षा देने छपरा गई थी, जिसमें वह कदाचार के आरोप में परीक्षा से निष्कासित कर दी गई थी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

संभवतः इससे आहत होकर उसने पानी में डूबकर अपनी जान दे दी है। हालांकि मंगलवार की सुबह उसने कुछ घरेलू काम किया था। उसके बाद वह कब गड्ढे की तरफ चली गई, किसी को पता नहीं चला। जब काफी समय तक वह वापस नहीं आई तो उसकी खोजबीन शुरू हुई। उसे खोजने के दौरान करीब दो-ढाई घंटे बाद किसी ने घर से करीब दो सौ मीटर की दूरी पर चंवरी में बने गड्ढे के पानी में उसका उपलाता हुआ शव देखा। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। इसकी खबर लगते हीं परिजनों के चीत्कार से माहौल गमगीन हो गया। आसपास की महिलाएं मृतका की मां व अन्य परिजनों को सांत्वना देने में जुटी थीं। इसे देखने के लिए दरवाजे पर लोगों की भीड़ लग गई। मृतका के चार भाईयों के बीच एकलौती बहन थी। उसके भाई विकास, बिट्टू, हलचल व वाशु हैं। मौत की सूचना मिलने पर डॉ. रविन्द्र कुमार, जितेन्द्र कुमार पासवान, संजय प्रसाद गुप्ता, सुमन्त कुमार व अन्य लोगों ने दरवाजे पर पहुंच परिजनों को सांत्वना दी।