भगवानपुर हाट: पोस्टमार्टम के बाद घर पर शव पहुंचते ही मचा कोहराम

0
Dead Body
  • परिजनों का कहना है कि हत्यारे गांव के हीं है
  • रामपुर महेश गांव के शिक्षिका पुत्र की गोली मारकर की गई थी हत्या

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के भगवानपुर हाट प्रखंड के रामपुर महेश गांव के शिक्षिका सावित्री देवी के छोटे पुत्र मणिभूषण उर्फ सोनू दुबे की रविवार को दरौदा थाना क्षेत्र के भिखा बांध के पास गोलीमार कर हत्या कर दी गई थी. पुलिस शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दी. शव जब घर पहुंचा तो गांव में कोहराम मच गया. परिजन दहार मारकर रोने लगे. कल से जो लोग इंतजार कर रहे थे वे शव देखने के लिए इक्कठा हो गए. परिजनों के चीत्कार से माहौल गमगीन हो गया. मां सावित्री देवी जो गांव के हीं प्राथमिक विद्यालय में शिक्षिका हैं की आंशु सुख नहीं रहे थे. बार-बार यही कह रही थी कि मेरे लाल ने मारने वालों का क्या बिगाड़ा था. दरवाजे पर पहुंचे लोगों की आंखे नम हो गई थी. परिजनों ने पिता अनिल कुमार दुबे के आने के इंतजार में शव को रखा है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

वे रावल किला में नौकरी करते है और वांहा से घर के लिए चल चुके है. उनके आने के बाद अंतिम संस्कार का रस्म पूरा किया जाएगा. स्थानीय लोगों के अनुसार गांव के तीन लोग उसे कार में बैठा कर ले गए. कार सूरज कुमार की बताई जाती है. हत्या के बाद से तीनों लोग गायब है. उनलोगों का मोबाइल बंद है. यहां तक कि उनके परिजन गांव छोड़कर भाग खड़े हैं. इस प्रकार से तीनों साथी सक के दायरे में आ चुके हैं. हत्या के कारणों के विषय में चचेरे भाई विनोद दुबे का कहना है कि बहन कि शादी एक वर्ष पूर्व मढौरा थाना क्षेत्र के लेरुआ गांव में हुई.

जिसमें लड़के वालों के विरुद्ध मामला दर्ज हुआ था. जिसका देख रेख मणिभूषण हीं करता था.यह बात स्थानीय सोनू दुबे को नागवार लगता था.उसने मुकदमे की पैरवी छोड़ देने नहीं तो अंजाम भुगतने की धमकी मृतक को दिया था.मृतक दो भाई और एक बहन में सबसे छोटा था. वह बीटेक करके अभी जब की तलाश में था.परंतु नियति को कुछ दूसरा हीं मंजूर था. इस घटना के बाद भगवानपुर हाट, महाराजगंज, दरौंदा, बसंतपुर पुलिस अपराधियों के गिरफ्तारी के लिए सक्रिय हो गई है.