बड़ी खबर : बाहर से बिहार पहुंचे 50 हजार लोग, सबकी हो रही जांच

0
bihar pahuche

पटना : इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है पटना से जहां सरकार की ओर से यह जानकारी मिली है कि पिछले 14 घंटे में बिहार के अंदर अन्य प्रदेशों से तकरीबन 50 हाजरा लोग आये हैं. दूसरे राज्यों से आने वाले प्रवासी मजदूरों की स्क्रीनिंग की जा रही है. इसके साथ ही सभी की ट्रैककिंग की जा रही है. स्थानीय प्रशासन की ओर से सबकी व्यवस्था की जा रही है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

स्वास्थ्य विभाग की ओर से यह भी जानकारी दी गई है कि बिहार में 800 से ज्यादा लोगों की जांच की गई है. जिसमें एक भी रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं आई है. अभी तक बिहार में बस 15 पॉजिटिव मरीज हैं. जिसमें से 5 लोगों की ट्रेवल हिस्ट्री है. इधर दूसरी ओर स्वाथ्य विभाग के कर्मचारियों के वायरल वीडियो पर स्वाथ्य विभाग प्रधान सचिव ने कहा कि 12000 PPE और N 95 मास्क अस्पतालों में भेजा जा रहा है. हर स्वास्थ्य कर्मी सुरक्षित रहें, यह सरकार की जिम्मेवारी है.

कोरोना वायरस वर्ल्ड में अपना कहर तेजी से बरपा रहा है. इंडिया में भी इसकी स्थिति बिगड़ती जा रही है. भारत में अब कोरोना मरीजों का आंकड़ा 1200 पहुंच चुका है. इसके अलावा पटना के आइजीआइएमएस में अब कोरोना का इलाज नहीं कराने का निर्देश दिया गया है. राज्य सरकार ने एक बड़ा फैसला लेते हुए बताया कि IGIMS को कोरोना इलाज से फ्री रखा जायेगा. IGIMS में कोरोना की जांच होगी लेकिन उसका इलाज नहीं होगा.

अन्य बीमारियों के इलाज को देखते हुए सरकार ने यह बड़ा निर्णय लिया है. सरकार की ओर से यह बताया गया है कि IGIMS को कोरोना इलाज से फ्री रखा जायेगा. IGIMS में कोरोना की जांच होगी लेकिन उसका इलाज नहीं होगा. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बताया गया कि पिछले 24 घंटों में COVID 19 के 92 मामले आए हैं और चार लोगों की मौत हुई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि ऐसी स्थिति में लॉकडाउन का पालन करना बेहद जरूरी है. बिहार सरकार की ओर से यह जानकारी मिली है कि निजी अस्पतालो कों खोलने कर लिए भाषा और IMA के प्रतिनिधियों से की जा रही है. भारत में अब तक 29 लोगों की मौत हुई है.स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि लॉकडाउन तोड़ेंगे तो लड़ाई नाकाम हो जाएगी. लॉकडाउन का पालन करें. विकसित देश के मुकाबले हमारे यहां मामले कम हैं. दुनियाभर में देखें तो एक व्यक्ति ने 100 लोगों को संक्रमित किया और महामारी तेजी से फैली. अब तक भारत में 1209 कोरोना के जानलेवा वायरस के शिकार हो चुके हैं. पिछले 24 घंटे में कोरोना से भारत में 4 लोगों की मौत हुई है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि लॉकडाउन तोड़ेंगे तो लड़ाई नाकाम हो जाएगी. लॉकडाउन का पालन करना होगा.