अभी-अभी : भूकंप के झटके से हिला बिहार, पटना में डरकर घर से सड़क पर आ गए लोग

0

पटना: बिहार में सोमवार की रात भूकंप के झटके महसूस किए गए। रात करीब नौ बजकर 20 मिनट पर लोगों को भूकंप के झटके लगे। राज्य के कई जिलों में भूकंप आने की सूचना मिल रही है। पटना में तो बड़ी संख्या में लोग अपने घर से बाहर निकलकर सड़कों पर आ गए। बड़ी संख्या में लोग अपने-अपने ऑफिस से बाहर आ गए। बिहार की राजधानी पटना, नवादा इत्यादि स्थानों पर भूकंप के झटके महसूस किए गए।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

पटना के बोरिंग रोड, राजीव नगर , इंद्रपुरी, बेउर, फुलवारीशरीफ, सिपारा, जंक्शन और एम्स इत्यादि इलाके के लोगों ने भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकंप आने की सूचना मिलते ही लोग एक दूसरे को फोन करने लगे। कई इलाकों में तो लोग डर कर सड़कों पर आ गए।

धरती पर भूकंप आता क्यों है?

हम सभी कुछ ना कुछ गड़बड़ करते रहते हैं. कभी-कभी धरती भी गड़बड़ कर देती है, बल्कि रोज कर देती है. पूरे ग्लोब पर रोज-रोज कहीं ना कहीं कुछ खटपट होता रहता है. छोटे-छोटे वाले तो कुछ नहीं कर पाते. पर जब कहीं कुछ बड़ा हो जाता है, तो पता चलता है कि भूकंप आ गया है.

अगर धरती को छेद के देखें तो ये तीन लेयर में होती है. सबसे ऊपरी लेयर को क्रस्ट कहते हैं. ये क्रस्ट पूरी धरती को घेरे रहता है. मतलब हमारे पांव के नीचे की जमीन और नदी-समंदर के नीचे की भी जमीन. ये बहुत ही मोटी परत होती है. जो हम देख पाते हैं, इससे बहुत गहरी।तो हमारी जमीन के नीचे बहुत सारी प्लेट्स होती हैं. आड़ी-तिरछी. इधर-उधर. एकदम फंसी हुई. एक हिली तो दूसरी भी हिलेगी.

एक खिंची तो कई और खिंच जाएंगी. और जब ये ज्यादा हो जाता है, तो ऊपर की जमीन खड़खड़ा जाती है. भूकंप आ जाता है. करोड़ों बरसों पहले जब कई प्लेट्स ऐसे ही टकराई थीं, तब इसी टक्कर से कई सारे पहाड़ बने थे. मतलब हल्के में नहीं लेना है इस टक्कर को. हिमालय भी ऐसे ही बना था. कहीं-कहीं भूकंप के अलावा ज्वालामुखी भी फट जाते हैं. इसमें क्या होता है कि धरती के अन्दर का लावा बाहर आ जाता है. गरम-गरम.