बिहार पंचायत चुनाव: ‘भाभीजी’ हार गईं चुनाव, तो तैश में आकर पिस्टल लहराने लगा देवर

0

मुंगेर: बिहार पंचायत चुनाव के पहले चरण का परिणाम सामने आया है. जैसे-जैसे प्रत्याशियों के हारने और जीतने की सूचना आ रही है, वैसे-वैसे उनके करीबियों द्वारा कानून का माखौल उड़ाने की खबरें भी सामने आ रही हैं. ताजा मामला मुंगेर जिले के तारापुर थाना क्षेत्र के पढ़भरा गांव में देखने को मिला, जहां चुनाव नतीजों में हुई हार का साइड इफेक्ट नजर आया. यहां एक महिला प्रत्याशी के चुनाव हारने पर उनके देवर ने तैश में आकर पिस्तौल निकाल लिया और उसे हवा में लहराने लगा.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

तारापुर प्रखंड में पढ़भरा पंचायत में वार्ड संख्या 1 से वार्ड सदस्य के लिए रिनु देवी चुनाव लड़ रही थीं. लेकिन, सोमवार को उनके चुनाव हारने की खबर आई तो उनके देवर पंकज कुमार ने लोडेड हथियार निकाल लिया और उसे लहराते हुए गांव में दहशत फैलाने की कोशिश की. हालांकि, इसकी सूचना मिलने पर पुलिस ने आरोपी पंकज को हथियार और चार जिंदा कारतूसों के साथ गिरफ्तार कर लिया.

माना जा रहा है कि चुनाव में अपनी भाभी की हुई हार को पंकज बर्दाश्त नहीं कर पाया और गुस्से में आगबबूला होकर वो हाथ में पिस्टल लेकर गांव में घूमने लगा. ग्रामीणों द्वारा इसकी सूचना देने पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुये आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में मुंगेर जेल भेज दिया. आरोपी पंकज के विरुद्ध सुसंगत धाराओं में केस दर्ज कर पुलिस द्वारा आगे की कार्रवाई की जा रही है.

पंचायत चुनाव में खूनी संघर्ष

वहीं. बिहार में हो रहे पंचायत चुनाव में खूनी संघर्ष कम होने का नाम नहीं ले रहा. खगड़िया में चुनावी रंजिश में दो लोगों की हत्या गोली मारकर कर दी गई. वारदात के बाद बेलदौर थाना क्षेत्र के रोहियामा गांव में दहशत का माहौल कायम है. हालात को देखते हुए बेलदौर थाना पुलिस के साथ-साथ गोगरी डीएसपी भी घटनास्थल पर कैंप किए हुए है.इससे पहले, पंचायत चुनाव के पहले चरण के दिन औरंगाबाद जिले में भी दो पक्षों के बीच आपसी वर्चस्व को लेकर फायरिंग करने की घटना सामने आयी थी.