बिहार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री बोले- मेरे पूर्वज हिन्दू राजपूत थे, लेकिन अब मेरे सिर पर पिस्तौल लगाइयेगा तो भी धर्म नहीं बदलूंगा

0
alpsakhyank neta

परवेज अख्तर/एडिटर-इन-चीफ :
बिहार सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री जमा खां ने आज अपने खानदान का राज खोला. मंत्री ने बताया कि उनके पूर्वज हिन्दू थे. आज भी उनके खानदान के कई लोग हिन्दू हैं. उनके घर आना-जाना भी है लेकिन अब कोई उनके माथे पर पिस्टल भी लगा देगा तो भी अपना धर्म थोडे ही बदलेंगे.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

हिन्दू से बन गये मुसलमान

दरअसल बिहार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री जमा खां से मीडिया ने देश भर में धर्मांतरण को लेकर हो रही चर्चा पर सवाल पूछा. मंत्री ने इसी सवाल के जवाब में अपनी खानदानी हिस्ट्री बता दी. उन्होंने कहा कि उनके पूर्वज दो भाई थे-जयराम सिंह औऱ भगवान सिंह. दोनों लड़ाई जीतकर कैमुर के इलाके में आकर बसे. बाद में भगवान सिंह मुसलमान बन गये. मंत्री जमा खां ने कहा कि वे भगवान सिंह के वंश के हैं. लेकिन जयराम सिंह के वंश के लोग अभी भी हिन्दू हैं. उनके यहां से आज भी आना जाना चलता है.

जबरदस्ती धर्मांतरण नहीं हो सकता

मंत्री जमा खां ने कहा कि उनके पूर्वज अपने मन से मुसलमान बने थे. किसी का भी जबरदस्ती धर्म परिवर्तन नहीं कराया जा सकता. उन्होंने कहा कि कोई मेरे सिर पर पिस्टल लगा देगा तो भी मैं अपना धर्म नहीं बदलूंगा. इसी तरह से कोई दूसरा आदमी भी अपना धर्म जबरदस्ती नहीं बदलेगा.

मंत्री ने कहा कि अगर कोई स्वेच्छा से धर्म परिवर्तन करता है तो ठीक है. लेकिन अगर कोई जबरदस्ती किसी का भी धर्म परिवर्तन करायेगा तो उसे बर्दाश्त नहीं किया जायेगा. राज्य सरकार ऐसा नहीं होने देगी. देश में अगर कहीं भी जबरन धर्म परिवर्तन हो रहा है तो उसे रोका जाना चाहिये. लेकिन अगर स्वेच्छा से किसी दूसरे धर्म को अपना रहा है तो उसे रोका नहीं जा सकता.