सिवान में दिनदहाड़े बाइक सवार अपराधियों सीएमएस एजेंट से की पांच लाख की लूट

0
  • बाइक सवार दो अपराधियों ने दिया घटना को अंजाम
  • दो मॉल से पैसे की वसूली घर बैंक जा रहा था एजेंट
  • शहर के डीएवी मोड़ के समीप हुई घटना

परवेज अख्तर/सिवान: नगर थाना क्षेत्र के डीएवी कॉलेज के समीप स्थित शौचालय के सामने दिनदहाड़े बाइक सवार दो अपराधियों ने एक राइटर बिजनेस सर्विस के एजेंट से पांच लाख 17 हजार रुपये लूट की घटना को अंजाम देकर फरार हो गये. घटना के संबंध में पीड़ित एजेंट निराला नगर वार्ड नंबर एक निवासी सतीश कुमार का पुत्र मोहित कुमार ने बताया कि वह एक सीएमएस कंपनी का एजेंट है. प्रतिदिन मॉल इत्यादि जगहों से रुपए की वसूली कर बैंक में जमा करने का काम करता है. मंगलवार की दोपहर तकरीबन 12:35 बजे वह स्टाइल बाजार से दो लाख और विशाल मेगा मार्ट से तीन लाख 17 हजार रुपये की वसूली कर डीएवी कॉलेज के रास्ते दहा नदी स्थित एक्सिस बैंक में रुपए की जमा करने के लिए जा रहा था. अभी वह डीएवी कॉलेज के समीप स्थित शौचालय के सामने ही पहुंचा था तब तक पीछे से एक अपाची बाइक पर सवार दो व्यक्ति आये धक्का दे दिया. जिसमें वह बड़े नाले में बाइक लेकर गिर गया और बैग लेकर फरार हो गये. अभी कुछ समझ पाता तब तक स्थानीय लोगों ने नाली से निकाला. उसके बाद वह हल्ला करने लगा.  तबतक पहले से शौचालय के समीप बैठे दो युवकों ने कहा कि अपाची से थे और बैग लेकर फरार हो गये. जिसके बाद इसकी सूचना पी़ड़ित ने अपने कंपनी को दिया और नगर थाने को दिया. वही नगर थाना व मुफ़स्सिल पुलिस मौके पर पहुंचकर जांच में जुट गई.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

रैकी के बाद दी गई घटना को अंजाम

sanchalak se loot

बताते चलें कि एजेंट प्रतिदिन रुपए की वसूली कर बैंक में जमा करने का काम करता है और वह मंगलवार को भी अपने एक साथी के साथ रुपए की वसूली करने के लिए निकला था. जहां से अधिक रुपए होगी जाने के कारण उसे दाहा नदी स्थित एसबीआई के मैन ब्रांच छोड़कर पुनः रुपए वसूली करने के लिए निकला था. जहां स्टाइल बाजार और विशाल मेगा मार्ट में पहले से घात लगाए बैठे अपराधियों ने एजेंट से रुपए लेते देखा और पीछे पड़े जहां डीएवी कॉलेज के समीप आते ही घटना को अंजाम देकर फरार हो गए.

अल्टरनेट होती है रुपए की वसूली

पीड़ित मोहित ने बताया कि एक दिन कैश वैन के माध्यम से तो दूसरे दिन एजेंट द्वारा बाइक के माध्यम से रुपए की वसूली कराई जाती है. हम लोग जब भी रुपए वसूली कर निकलते हैं, तब दो लोग मौजूद रहते हैं. लेकिन अत्यधिक रुपए होने के कारण मैं अपने साथी सोनू को छोड़ दिया. यह घटना को अंजाम देने में अपराधी कामयाब हो गये.

पुलिस नहीं कर सकी अपराधियों की पहचान

बताते चलें कि घटना को अंजाम देने के बाद अपराधी किस गलियों के माध्यम से मोहल्ले में निकले हैं, यह किसी को जानकारी नहीं है. पुलिस देर संध्या तक लूट में शामिल अपराधियों की पहचान नहीं कर सकी थी. इधर उस रास्ते में जितने भी दुकान आवास है उसमें पुलिस ने अपराधी की पहचान के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगाला लेकिन अपराधियों की पहचान नहीं हो सकी.

गिरफ्तारी के लिए एसआईटी टीम कर रही है छापेमारी

लूट की घटना में शामिल अपराधियों की पहचान नहीं हो सकी. लेकिन एसआईटी टीम अंधेरे में लाठी पीटते हुए अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है. अब लोगों में चर्चा बनी हुई है किस आधार पर एसआईटी अपराधियों तक पहुंचेगी.

टाइगर मोबाइल पुलिस से भी नहीं डरते हैं अपराधी

विभाग द्वारा शहर की विभिन्न गलियों में गस्ती के लिए नगर थाना में आधा दर्जन टाइगर मोबाइल पुलिस तैनात किए गए हैं. जो कि शहर के विभिन्न गलियों में अपना गस्त करते हैं. लेकिन अब टाइगर मोबाइल पुलिस से भी अपराधी नहीं डर रहे हैं और दिनदहाड़े शहर के बीचो-बीच भीड़भाड़ वाले स्थान पर घटना को अंजाम देकर फरार हो जा रहा है. टाइगर मोबाइल पुलिस देखती रह जा रही है.