बिस्कुट बिक्री कर परिवार चलाते हैं मृतक शहजाद के पिता

0
faimily

परवेज अख्तर/सिवान : मंगलवार को तेतहली एवं भलुआ नहर से दो लड़कों का शव बरामद मामले में बुधवार को स्थिति सामान्य थी लेकिन पुलिस ने सुरक्षा के लिहाज से क्षेत्र में गश्त जारी रखा है। जिला मुख्यालय समेत कई थानों की काफी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। बाजार में दुकानें भी समान्यत: खुले रहे। बड़हरिया पश्चिम टोला गांव निवासी मो. असलम सिद्दीकी के पुत्र मो. शहजाद के गंडक नहर में शव बरामद के बाद और परिवार की लाचारी से सब लोग मर्माहत हैं। मृतक मो. शहजाद दो भाइयों में बड़ा था। छोटा भाई मो. शहबाज एवं एक छोटी बहन उजाला खातून है। मृतक के पिता मो. असलम सिद्दीकी एक गुमटीनुमा दुकान कर बिस्कुट आदि बेंचकर परिवार का खर्च चलाते हैं। उन्होंने कहा कि जब मेरा पुत्र पुलिस की लाठीचार्ज के दौरान लापता हो गया तो हम सभी थाने में इसकी जानकारी देने गए, लेकिन पुलिस द्वारा इसे गंभीरता से नहीं लिया गया और पुलिस ने अपने हिसाब से आवेदन लिखवा ली और घटना के दूसरे दिन मेरे लाडले का शव नहर से बरामद हुआ। परिजनों ने कहा कि शव देखने से ऐसा प्रतीत हो रहा था कि उसकी हत्या की गई थी और साक्ष्य छुपाने के लिए नहर में शव को बहा दिया गया था।

राजद का शिष्टमंडल परिजनों से मिल दी सांत्वना

राजद का शिष्टमंडल शोकाकुल परिजनों से मिल परिजनों को ढाढ़स बंधाया। साथ ही परिजनों को हर संभव मदद करने तथा दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की। शिष्टमंडल में राजद के पूर्व सांसद मो. शहाबुद्दीन की पत्नी हिना शहाब, प्रो. महमूद हसन अंसारी, एहतेशामुल हक सिद्दीकी,अधविक्ता मो. मोबीन, कृष्णा देवी, अमीर हमजा,मो. जलालुद्दीन, फेराज अहमद सोनू, दाउद खान, जकरिया खान, नजरे इमाम खान, शंभू प्रसाद गुप्ता, पूर्व उप प्रमुख जीवनारायण यादव आदि उपस्थित थे।baithak