छह दिनों से गायब चल रहे वृद्ध का सेफ्टिक टैंक में मिला शव, सनसनी

0
dead

बैंक में पैसा जमा कराने गए अधेड़ पांच रोज से चल रहे थे गायब

शहर के नया बाजार बैंक ऑफ बड़ौदा के सामने स्थित मकान की टंकी से बरामद हुआ शव

परवेज़ अख्तर/ सिवान:- जिले के महाराजगंज बाजार स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा के सामने शनिवार कि सुबह एक निर्माधीन मकान के शौचालय के टंकी से अधेड़ का शव मिलने से इलाके में सनसनी फ़ैल गयी. दर असल मकान से लगातार उठ रही दुर्गंध के बाद आस-पास के लोगों ने इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी. सूचना मिलते ही स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची और खोजबीन में पाया कि दुर्गंध शौचालय की टंकी से आ रही है. उसमें झांकने के बाद शव दिखाई दिया. शौचालय की टंकी का मुंह छोटा होने की वजह से काफी मशक्कत के बाद पुलिस ने शव को बाहर निकाला. इसी बीच स्थानीय लोगों की भीड़ वहां जुट गयी. घटना के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. बताया जाता है कि बीते 25 नवंबर को दरौंदा थाना क्षेत्र के सवान निवासी स्व साधु सिंह के पुत्र चंदेश्वर सिंह(65) बैंक में पैसा जमा करने गये थे. इसके बाद वे घर वापस नहीं आये. परिवार वालों को चिंता सताने लगी. परिजनों ने तुरंत इसकी सूचना एसपी, एसडीपीओ, थानाध्यक्ष को दी. वहीं शिक्षक प्रशांत कुमार सिंह के आवेदन पर अज्ञात के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज की गयी है. शनिवार की सुबह अगल-बगल के लोगों को निर्माणाधीन मकान से दुर्गध आने लगी. कुछ लोगों ने हिम्मत बांध कर अन्दर प्रवेश किया तो शौचालय टंकी में लाश देख भौचक हो गये. उनलोगों ने हल्ला किया. देखते ही देखते हजारों लोग जमा हो गये. सूचना मिलते ही पुलिस भी पहुंच गयी. जब शव टंकी से बाहर निकाला गया तो सभी ने देखकर अंचभित हो गये. शव शिक्षक के पिता चन्द्रेश्वर सिंह की थी. इस घटना के बाद लोग आक्रोशित हो गये. इसके बाद महाराजगंज-दरौंदा मुख्य सड़क पर आगजनी कर करीब चार घंटे तक सड़क जाम कर दिया. परिजनों एंव रिश्तेदारों ने घटनास्थल पर वरीय अधिकारियों को बुलाने की मांग पर अड़ गये. पुलिस को पोस्टमार्टम के लिए शव ले जाने से रोक दिया. मृतक के पुत्र प्रशांत कुमार सिंह ने गला दबाकर हत्या करने का आरोप लगाया. उनका आरोप था कि हत्या कर शव को शौचालय के टंकी में डालकर खुदखुशी का रुप दिया गया है. इधर सूचना मिलते ही एसडीपीओ हरीश शर्मा घटना स्थल पर पहुंचकर पूरी जानकारी ली. उन्होंने परिजनों को आश्वस्त किया कि घटना का पर्दाफाश शीघ्र कर दिया जायेगा. उन्होंने बताया कि पुलिस अगल-बगल लगे साथ सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाल रही है.

आक्रोशितों ने आगजनी कर सड़क किया जाम, बंद रही अधिकांश दुकानें

छह रोज से लापता वृद्ध का शव मिलने के बाद लोग आक्रोशित हो गये. उनका आक्रोश देख शहर के पुरानी बाजार, काजी बाजार, नया बाजार की दुकानें बंद हो गयी. प्रदर्शनकारी डीएम व एसपी को बुलाने की मांग की पर डटे रहे. लोगों का कहना था कि जब तक वरीय अधिकारी नहीं आयेंगे तब तक सड़क जाम नहीं हटेगा. प्रदर्शनकारी फुलेना शहीद स्मारक, राजेंद्र चौक, नखास चौक पर टायर जलाकर बैंच, बांस के बल्ला को बांध कर सड़क को अवरुद्ध कर दिया था. जिससे आमजनों को काफी दिक्कतें हुयी. अन्य वाहनों के साथ जाम में एंबुलेंस भी फंसी रही. इधर घटना की सूचना मिलते ही एसडीओपी हरीश शर्मा ने पहुंचकर प्रदर्शनकारियों से बात कर आश्वस्त किया. घटना में शामिल अपराधियों को शीघ्र गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया. इसके लिए एक पुलिस टीम का भी गठन किया. इसके बाद आक्राशित शांत हुये.

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here