बिठुना में हुए गोलीकांड मामले में दोनों पक्षो ने दर्ज कराया प्राथमिकी , दोनों पक्ष के 31 नामजद

0
FIR

परवेज अख्तर/सीवान:- जिले के बसन्तपुर थाना क्षेत्र के बिठुना गांव में बुधवार को दो पक्षों के बीच हुए गोलीकांड मामले में दोनों पक्षो ने एक दूसरे पर आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई।है । बिठुना के नरेंद्र सिंह के बयान पर कांड संख्या 82/ 20 दर्ज किया गया है । बयान में कहा गया है कि बुधवार की दोपहर अपने भाई सुरजीत सिंह , रंजीत सिंह व भतीजा रौशन कुमार के घर के बरामदा में बैठा था । तभी मेरे पड़ोसी दामोदर सिंह , गोविंद सिंह , अरबिंद सिंह , अमित कुमार , अंशु कुमार एक अज्ञात के साथ दो बाइक पर सवार होकर मेरे घर के पास आये । आते ही दामोदर सिंह ने चिल्लाकर बोला कि सभी एक साथ बैठा है , सभी को गोली मार दो । मना करने के बाद भी कोर्ट में हमलोगों के खिलाफ गवाही दे रहा है । इतना सुनते ही अमित कुमार ने पिस्टल से फायर किया तो मेरे भाई सुरजीत सिंह के पेट मे गोली लगी । तब तक अरविंद ने हांथ में लिए पिस्टल से फायर किया तो सुरजीत के पैर में गोली लगी । सभी लोग जान बचा कर घर मे भाग गए । उसके बाद घायल हुए भाई को बसन्तपुर पीएचसी लाया । जहां से चिकित्सकों ने उसे सिवान रेफर कर दिया । सिवान सदर अस्पताल से भी चिकित्सकों ने स्थिति गंभीर देख पटना रेफर कर दिया । प्राथमिकी में घटना का कारण पूर्व में भी उनलोगों ने हमलोगों पर हमला किया था । जिसको लेकर बसन्तपुर थाना में कांड संख्या 135/ 14 , 301/ 14 और 137/ 18 दर्ज है । उपरोक्त लोग केश उठाने व गवाही नही देने का दबाव बना रहे थे । केश उठाने से मना करने पर घटना को अंजाम दिया गया है । वही बिठुना के राजेन्द्र सिंह की बेटी अंकिता कुमारीं के बयान पर कांड संख्या 83/ 20 दर्ज की गई है । बयान में कहा गया है कि बुधवार को अपने घर मे मां के साथ बैठी थी । तभी गांव के नरसिंह सिंह , गणेश सिंह , अमरेंद्र सिंह , नरेंद्र सिंह संजीत सिंह उर्फ सुजीत सिंह , रंजीत सिंह , तारकेश्वर सिंह समेत 24 लोग भगवानपुर के बड़कागांव के विकास कुमार के साथ मेरे घर आये तथा देशी कट्टा से फायर करते हुए मेरे अर्धनिर्मित मकान को तोड़-फोड़ करने लगे । जिसका विरोध मैंने व मेरी मां ने किया , तब जान मारने की नीयत से रूपेश सिंह ने गोली चलाया । जो मेरी मां के दाहिने पैर के नीचे लगा । उसके बाद रंजीत सिंह ने फायर किया तो माँ के बाएं पैर के घुटना में लगा । इसी दौरान भूषण सिंह ने मेरे फुस के घर मे आग लगा दिए । मेरे किराना दुकान में तोड़फोड़ कर दो हजार रुपये निकाल लिया । इसी बीच सोनू व भूषण घर मे घुस कर पेटी तोड़ 40 हजार नगद , कान की बाली ले लिए । पुलिस घटनास्थल पर पहुंच घायल पड़ी मेरी माँ को बसन्तपुर पीएचसी लाई । जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे सिवान रेफर कर दिया गया । पुलिस दोनों प्राथमिकी दर्ज कर छानबीन कर रही है ।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal