गोपालगंज से सिवान आ रही यात्रियों से भरी बस का चक्का फटा, सात की मौत

0
mahila ghyal

परवेज अख्तर/सिवान: सोमवार की सुबह सिवान-गोपालगंज मुख्य पथ पर अमलोरी-सरसर गांव के बीच गोपालगंज से सिवान आ रही आशीष ट्रेवल्स बस का चक्का अचानक ब्लास्ट कर गया। इस कारण बस अनियंत्रित होकर सड़क किनारे गड्ढे में पलट गई। इस घटना में दो महिला समेत सात यात्रियों की मौत हो गई। जबकि दो दर्जन से ज्यादा यात्री घायल हो गए। मृतकों में गोपालगंज जिले के पांच लोग शामिल हैं, जबकि एक बेतिया व सिवान के थे। बस के गड्ढा में पलटने के बाद यात्रियों की चीख पुकार सुनकर आसपास के लोग वहां पहुंचे और इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी। सूचना पर एसपी नवीन चंद्र झा, मुफस्सिल थानाध्यक्ष दलबल के साथ पहुंचे। इधर सदर अस्पताल से भी तुरंत एंबुलेसं को घटना स्थल पर रवाना कर दिया गया। स्थानीय लोगों और पुलिस की मदद से सभी यात्रियों को बस से बाहर निकाला गया और उन्हें इलाज के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया। घटना के बाद करीब दो घंटे तक मुख्य पथ पर आवागमन पूरी तरह से ठप रहा। पुलिस की सक्रियता के बाद जब सभी घायलों को अस्पताल भेज दिया गया तो सड़क पर आवागमन को शुरू कराया गया। मृतकों में मीरगंज थाना क्षेत्र के फतेहपुर निवासी मंटू साह, मीरगंज थाना क्षेत्र के मटिहानी निवासी जाकिर नट, मीरगंज के मटिहानी वीरेंद्र महतो, मीरगंज थाना क्षेत्र के खरौली निवासी सुमन,बेतिया पश्चिमी चंपारण के मरुवाहां (बरदाहां) गांव थाना नौतन निवासी गोपीचंद्र, सिवान के नौतन थाना क्षेत्र के कुरमौटा निवासी निर्मला देवी शामिल हैं। जबकि एक घायल राम प्रकाश प्रसाद की मौत पटना में इलाज के क्रम में हो गई। वह गोपालगंज जिले के भागीरथी सेमराव गांव का रहने वाला था। घायलों में भी ज्यादातर गोपालगंज जिले के रहने वाले हैं। जिस समय बस दुर्घटनाग्रस्त हुई उस समय बस में करीब 50 यात्री सवार थे। injured

सड़क दुर्घटना में भाई की मौत के बाद शादी की खुशियां गम में बदली

गोपालगंज से सिवान आ रही यात्रियों से भरी बस के पलटने से सोमवार को सात लोगों की मौत हो गई। सात में से एक मृतक मीरगंज थाना क्षेत्र के फतेहपुर निवासी मंटू साह की छोटी बहन का तिलक 9 जून व शादी 13 जून को है। इसकी तैयारी को लेकर वह सिवान आ रहा था। तभी बस पलट गई और मंटू की मौत हो गई। मृतक के बड़े भाई छोटे लाल साह ने बताया कि छह भाई व दो बहन में तीन नंबर पर मंटू साह था। कुछ दिन पहले ही विदेश से घर आया था। सबसे छोटी बहन की अगले माह में शादी थी इसकी तैयारी को लेकर सिवान बस से जा रहा था। अब बहन की शादी के अरमान सब टूट गए। परिवार में कोहराम मचा हुआ है।mahila ghyal

पिता से मिलने आ रहे पुत्र की हुई मौत

सोमवार को जिन सात घरों में एक साथ अर्थी उठी उसमें एक मृतक गोपीचंद्र राम अपने पिता से मिलने के लिए सिवान आ रहा था। उसके पिता टेंट हाउस का काम कर रहे थे। मृतक बेतिया चंपारण के नौतन थाना क्षेत्र मरुवाहां का रहने वाला था। बेटे की मौत की सूचना पाकर अस्पताल पहुंचे गोपीचंद्र के पिता चंद्रिका राम ने बताया कि मैं सिवान में रहा कर टेंट का काम करता हूं। मेरा बेटा सोमवार को बस पर सवार होकर सिवान मुझसे मिलने आ रहा था तभी बस पलटने से उसकी मौत हो गई। बेटा स्नातक को छात्रा था।