श्री राम के आदर्शों पर चलकर साधारण मनुष्य भी बन जाता है महान

0
hare ram

परवेज अख्तर//सीवान:- तीन दिवसीय राम कथा के अंतिम दिन आज कथा वाचक संदीप कुमार गिरि ने कहा कि श्री राम एक यात्रा है जिसके रास्ते पर चलकर साधारण से मनुष्य भी रामत्व को प्राप्त कर सकते हैं। परमात्मा सरल एवं सहज हैं उनको प्राप्त करने का मार्ग भी सरल एवं सहज है। श्री राम समाज के विभिन्न वर्गों को लेकर एक सहज समाज की निर्माण करते हैं ।समरस समाज में सभी से प्रेम ,शक्ति, सुख का ध्यान सब को आगे बढ़ाने का मौका एक साथ रहने का सौभाग्य जीवन का परम लक्ष्य है। कथावाचक श्री गिरि ने कहा कि आज राम के बताए रास्ते पर चलकर मनुष्य अपने जीवन के परम लक्ष्य को प्राप्त कर सकता है श्री राम को जिस सामाजिक दृष्टि से देखी उसी से उन्हें पूर्ण रूप में पाया। इस कारण उन्हें मर्यादा पुरुषोत्तम कहा गया है ।इस अवसर पर योगेंद्र सिंह समेत कई लोग मुख्य रूप से मौजूद थे

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal