बिहार के छात्रों ने पंजाब में निकाला कैंडल मार्च

0

कैंडल मार्च में सीवान के छात्रों ने दिखाया दम

दोनों घटना के प्रति छात्रों में था आक्रोश

परवेज़ अख्तर/सीवान:- बिहार के सीवान जिला के पंजाब में पढ़ाई करने वास्ते गए इंजीनियरिंग के छात्रों ने रविवार की देर संध्या उन्नाव व कश्मीर में हुए बलात्कार की घटना को ले कैंडिल मार्च निकाला। इस कैंडिल मार्च में सीवान के लगभग दो दर्जन से अधिक छात्रों ने हिस्सा लिया।बलात्कार की घटना को लेकर कैंडिल मार्च पंजाब शहर के जिला मोहाली के डेराबसी से निकाली गयी।जो डेराबसी से होते हुए सरस्वती विहार ,सुखमनी कॉलेज होते हुए पुनः डेराबसी पहुँची।तथा कैंडिल मार्च में शामिल छात्रों ने दो मिनट का मौन धारण कर मृत छात्रा के आत्मा के शांति के लिए परम् पिता परमेश्वर से कामना की ।इस कैंडिल मार्च का नेतृत्व सीवान जिले के पचरुखी प्रखण्ड के बरहनी बाजार निवासी सह छात्र नेता दीपक कुमार यादव कर रहे थे।इस मौके पर छात्र नेता दीपक कुमार यादव ने कहा की दोनों घटित घटना में शामिल लोगों को शख्त से शख्त कड़ी सजा मिलनी चाहिए।चाहे जो हो।वहीं छात्र नेता सह जिला मुख्यालय के एमएम कॉलोनी निवासी नदीम सरवर ने कहा की जो लोग दिन भर फूलों को पैरों से कुचल कर शाम के समय में चमन की रहनुमाई का दावा करते है वैसे लोग इतनी बड़ी मानवता को शर्मसार करने वाली घटना घटित कर सरकार के इशारे कैसे बचेंगे?वहीं एमएम कॉलोनी के बशीर आलम ने कहा की दोनों घटना में जो -जो लोग शामिल है उसे वहाँ की शासन व प्रशासन अविलम्ब गिरफ्तार करे नही तो सम्पूर्ण भारत के छात्र उग्र होकर सड़क पर उतर कर जोरदार आंदोलन के लिए बाध्य हो जायेगें।इस मौके पर छात्रों में क्रमशः संदीप शर्मा ,मो.अफजल ,शिवम् कुमार ,कल्याण जी , मो.फहीम ,मो.अशफाक ,मिस्टर हर्ष कुमार ,मो.सुलेमान,रेहान खान,मुकेश कुमार,मो.सोनू,मो.एबाबुल, मो.दानिश वकार,मो.शकील हुसैन,मो.आशिफ ,बिक्की कुमार समेत कई बिहारी छात्रों ने हिस्सा लिया।