अब बूस्टर डोज के रूप में लगायी जायेगी कार्बेवैक्स वैक्सीन

0

• केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी किया दिशा-निर्देश

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

• कोविशील्ड या कोवैक्सीन की दोनों खुराक लेने वाले लगवा सकते कार्बेवैक्स वैक्सीन

छपरा: वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जिले में टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। केंद्र सरकार ने वयस्कों के लिए कार्बेवैक्स वैक्सीन के बूस्टर डोज को देने की मंजूरी दे दी है। लेकिन जिन वयस्कों ने कोविशील्ड या कोवैक्सीन की दोनों खुराक ले ली है वे ही इस बूस्टर डोज को लगवा सकते हैं। इसको लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने पत्र जारी कर आवश्यक दिशा निर्देश दिया है।

18 साल से अधिक उम्र के जिन लोगों को कोवैक्सीन या कोविशील्ड की दूसरी खुराक लिये छह महीने या 26 सप्ताह हो गये हैं, उनके लिए कॉर्बेवैक्स एहतियाती खुराक के तौर पर उपलब्ध होगी । ‘इससे इस उम्र वर्ग में एहतियाती खुराक के तौर पर कॉर्बेवैक्स का कोविड-19 के दूसरे टीके के तौर पर उपयोग हो पाएगा।’

75 दिनों तक टीकाकरण अमृत महोत्सव का आयोजन:

आजादी के अमृत महोत्सव के तहत देशभर में 15 जुलाई से 30 सितंबर तक कोविड वैक्सीनेशन अमृत महोत्सव मनाया जाएगा। इसके अंतर्गत 18 वर्ष के आयु वर्ग और इससे ऊपर के सभी पात्र लाभार्थियों को म़ुफ्त में बूस्टर डोज लगाई जाएगी। देश में आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। इसी कड़ी में टीकाकरण के लक्ष्य को शत-प्रतिशत हासिल करने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह पहल की है। अब टीकाकरण अमृत महोत्सव मनाया जायेगा। 75 दिनों तक विशेष अभियान चलाकर बूस्टर डोज से वंचित लाभार्थियों का नि:शुल्क टीकाकरण किया जायेगा।

सुदूरवर्ती इलाके में भी पहुँच रही है टीकाकरण टीम:

किसी भी स्थिति में एक भी व्यक्ति टीका से वंचित नहीं रहे और सभी लाभार्थियों को हर हाल में निर्धारित दूसरा और प्रीकाॅशनरी डोज का टीका लगाया जा सके। इसके लिए टीकाकरण टीम सुदूरवर्ती इलाके में भी पहुँच रही और एक-एक व्यक्ति को चिह्नित कर टीकाकृत किया जा रहा है। इसके अलावा संबंधित क्षेत्र की एएनएम, आशा कार्यकर्ता समेत अन्य स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा टीकाकरण के लिए लोगों को जागरूक भी किया जा रहा है।

एक भी व्यक्ति टीका से वंचित नहीं रहे:

सिविल सर्जन डॉ. सागर दुलाल सिन्हा ने बताया कि एकबार फिर से प्रदेश के विभिन्न जिलों से कोविड संक्रमण की शिकायत सामने आने लगी है। इसलिए, इस घातक महामारी से बचाव के लिए हर व्यक्ति को टीका लेना जरूरी है। एक भी व्यक्ति टीका से वंचित नहीं रहे, इसी उद्देश्य से जिले में हर घर दस्तक टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। जिसके तहत टीकाकरण टीम जिले के सभी प्रखंडों के सभी क्षेत्रों में घर-घर दस्तक देकर एक-एक व्यक्ति को चिह्नित कर टीकाकृत कर रही है।