पुलिस कस्टडी में मौत का मामला: SP बोले- ‘पुलिस की पिटाई से नहीं मधुमक्खियों के काटने से हुई मौत….उत्तेजित ग्रामीणों ने थाने में लगाई आग, हवलदार की मौत, नौ पुलिसकर्मी घायल

0

पटना: बेतिया में शनिवार को बेलथर थाने में पुलिस की पिटाई से हुए युवक की मौत की खबर अफवाह निकली. एसपी ने बताया कि युवक की मौत पुलिस की पिटाई से नहीं बल्कि मधुमक्खियों के काटने से हुई है. उसे इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई. ये अफवाह जब गांव में पहुंची तो लोग उग्र हो गये. गांव वालों ने थाने पर धावा बोल दिया. गुस्साए लोगों ने फायरिंग की और तोड़फोड़ कर दी. गोली लगने से पुरुषोत्तमपुर थाना के हवलदार की मौत हो गई है. इस दौरान उग्र भीड़ ने तीन पुलिस की गाड़ी, एक अग्निशमन की गाड़ी और दो प्राइवेट गाड़ियों में आग लगा दी है. एसपी ने बताया कि फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

नौ पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल है। व‍िधायक भी चोट‍िल है। हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो रही है। उपद्रवियों को शांत कराने के लिए पुलिस पहुंची हुई है। बलथर गांव के एक-एक घर को सर्च किया जा रहा है। अभी तक एक दर्जन के आसपास लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है।

बता दें कि बलथर थाने के पुलिस बैरक में पुरुषोत्तमपुर थाने के हवलदार रामजतन राय समेत अन्य जवान थे। तभी ग्रामीणों ने हमला कर दिया। संभावना व्यक्त की जा रही है किसी हमला में रामजतन राय की मौत हुई है। वहीं घायल पुलिसकर्मी मोहम्मद अली मियां (बलथर),. मोहम्मद सदीक मंसूरी , पंकज सिंह (कांगली थाना) ,विजेंद्र सिंह, शिवेंद्र कुमार पंडित (सिकटा), पवन कुमार (बलथर ), पप्पू कुमार पांडेय (मैनाटांड़) , त्रिभुवन सिंह ( मैनाटांड़ )एवं पारस यादव (चालक सिकटा) का इलाज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मैनाटांड़ में चल रहा है। घायलों में सिक्का थाने के चालक समेत चार की हालत गंभीर है जिन्हें बेहतर इलाज के लिए जीएमसीएच, बेतिया रेफर कर दिया गया है। दो राइफल भी लूटे जाने की है सूचना।

जिले के बलथर थाना क्षेत्र में आर्यानगर गांव में शनिवार की दोपहर में होली के दौरान डीजे बजाने के आरोप में हिरासत में लिए गए युवक की थाने में मौत हो गई। उसके बाद उग्र ग्रामीणों ने थाने में आग लगा दी है। फिलहाल, बलथर थाने को चारों तरफ से हजारों की संख्या में लोगों ने घेर लिया है। अन्य थानों की पुलिस भी मदद में बलथर थाने में नहीं पहुंच पा रही है। ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों की पिटाई से युवक की मौत हो गई है।

घटना के बाद पूरे इलाके को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है. करीब दो हजार की संख्या में पुलिस बल के साथ बेतिया एसपी उपेंद्र नाथ वर्मा रात भर लगातार कैंप करते रहे. पूरे बलथर थाना क्षेत्र में तनाव का माहौल बना हुआ है. फिलहाल स्थिति काबू में हैं. पुलिस ने बताया कि उपद्रवियों की पहचान की जा रही है. मौके पर मिले फुटेज और सीसीटीवी से आरोपियों की पहचान की जा रही है।