सिवान में पारस्परिक सहयोग व सामाजिक सद्भाव के साथ मनाएं महापर्व : डीएम

0

परवेज़ अख्तर/सिवान:
कोरोना काल के मध्य लोक आस्था का महापर्व छठ के शुभ अवसर पर जिलाधिकारी अमित कुमार पांडेय ने जिले के सभी छठ व्रतियों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए शांतिपूर्ण वातावरण में पारस्परिक सहयोग एवं सामाजिक सद्भाव के साथ मनाने की अपील की। डीएम ने बताया है कि छठ पर्व के दौरान व्रतियों को किसी प्रकार की असुविधा ना हो, इसके लिए जिला प्रशासन सदैव तत्पर है। कोविड 19 के संक्रमण के प्रभाव के रोकथाम के लिए जिलाधिकारी ने यथासंभव छठ पर्व पर सुबह और शाम को दिए जाने वाले अ‌र्घ्य को घर पर ही करने की सलाह दी है। महत्वपूर्ण नदियों से व्रती यदि जल लेकर जाना चाहें तो मास्क का उपयोग एवं सामाजिक दूरी का पालन करते हुए ला सकते हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि 60 वर्ष से उपर वाले पुरुष-महिला एवं 10 वर्ष से नीचे वाले बच्चों, बीमार व्यक्तियों आदि को किसी भी परिस्थिति में घाट पर ना जाने दें। छठ घाट पर बैठने या खड़े रहने की व्यवस्था इस तरह की जाए, ताकि पर्याप्त सामाजिक दूरी बनी रहे तथा सभी लोगों द्वारा अनिवार्य रूप से मास्क का प्रयोग की जाए।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

छठ घाटों पर पटाखों की बिक्री एवं पटाखे जलाने पर रहेगा पूर्ण प्रतिबंध

साथ ही तालाब या नदी में अ‌र्घ्य देने के समय डुबकी नहीं लगाने तथा बैरिकेडिग को पार कर गहरे पानी में नहीं जाने की अपील की है। डीएम ने बताया कि इस बार छठ पूजा के दौरान घाट के आस-पास खाद्य पदार्थ का स्टाल नहीं लगाया जाएगा। कोई सामुदायिक भोज, प्रसाद या भोग का वितरण नहीं किया जाएगा। किसी प्रकार के मेल, जागरण एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी वर्जित होगा। छठ घाटों पर पटाखों की बिक्री एवं पटाखे जलाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा तथा नदियों में निजी नावों के परिचालन पर रोक रहेगी।

194 जगहों पर दंडाधिकारियों व पुलिस पदाधिकारियों की हुई है तैनाती

छठ महापर्व को शांतिपूर्ण एवं सफल संचालन हेतु जिला प्रशासन द्वारा संपूर्ण जिला को विभिन्न जोनों में विभक्त करते हुए सदर अनुमंडल में 156 एवं महाराजगंज अनुमंडल में 38 जगहों पर विधि-व्यवस्था संधारण के लिए पर्याप्त संख्या में दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस बलों की तैनाती की गई है। अत्यधिक भीड़-भाड़ वाले छठ घाटों पर दस अस्थायी नियंत्रण कक्ष के साथ-साथ आवश्यकतानुसार चिकित्सकीय दलों एवं क्विक मॉनिटरिग रिस्पांस टीम सहित खतरनाक घाटों पर गोताखोरों की व्यवस्था की गई है।

95 खतरनाक घाटों को किया गया है चिह्नित

सदर अनुमंडल अंतर्गत 85 खतरनाक घाटों को चिह्नित किया गया है। इसमें सिसवन प्रखंड के गंगपुर निवासी मनोज सिंह के घर के पास अवस्थित छठ घाट, महादेव सिंह के घर के पास अवस्थित छठ घाट, सिसवन पांडेय जी का छठ घाट, मल्लहवा छठ घाट एवं शिवालिका छठ घाट पूरी तरह से प्रतिबंधित किया गया है। वहीं दूसरी ओर महराजगंज अनुमंडल अंतर्गत कुल 10 खतरनाक घाट चिह्नित हैं।

जिला नियंत्रण कक्ष का नंबर किया गया है जारी

जिलाधिकारी ने जिले के सभी छठ व्रतियों से यह अनुरोध किया है कि वे प्रशासन द्वारा जारी किए गए निर्देशों का अवश्य पालन करें। किसी प्रकार के अफवाह पर ध्यान नहीं देते हुए अन्य समुदाय के धार्मिक भावना को ठेस नहीं पहुंचाया जाए। यदि कहीं कोई समस्या आती है तो उचित समाधान हेतु उसकी सूचना तत्काल प्रशासन एवं पुलिस पदाधिकारियों को या जिला नियंत्रण कक्ष के दूरभाष संख्या 06154-242000 पर दी जाए।