चनौर गांव में विवाहिता की हत्या कर शव को किया गायब, प्राथमिकी दर्ज

0
patni ki htya

परवेज़ अख्तर/सीवान:- जिले के धनौती ओपी थाने के चनौर गाँव में दहेज के दरिंदों ने दहेज की मांग पूरी नही होने पर एक 23 वर्षीय नवविवाहिता की हत्या करके उसके शव को गायब कर देने का मामला प्रकाश में आया है।इस घटना को लेकर नवविवाहिता की हत्या कर उसके शव को गायब होने की सुचना जैसे ही उसकी माँ जीरादेई थाने के तितरा निवासी स्व ओमप्रकाश गुप्ता की पत्नी केवली देवी को लगी तो उसने अपनी पुत्री के ससुराल पहुँची जहाँ ग्रामीणों द्वारा उसे पता चला की आपकी पुत्री अपने ससुराल से गायब है।इसके अलावा ग्रामीणों द्वारा कुछ भी नही बताया गया।ग्रामीणों द्वारा और कुछ भी नही बताने से उसकी माँ की बेचैनी और बढ़ गई और उसने फफक-रो पड़ी।और आनन -फानन में वह स्थानीय धनौती ओपी में जाकर थाना प्रभारी मुकेश कुमार पुष्पेन्द्र को घटना की पूरी जानकारी दी।बाद में उक्त महिला ने एक लिखित आवेदन देकर दहेज की माँग पूरी नही करने पर उसकी पुत्री शोभा कुमारी की हत्या कर उसके शव को गायब कर देने का आरोप उसके ससुराल वालों के विरुद्ध लगाई।उधर उसके आवेदन पर पुलिस ने एक नामजद प्राथमिकी दर्ज की है।प्राथमिकी दर्ज के बाद धनौती ओपी की पुलिस हरकत में आ गई।तथा गहराई पूर्वक छानबीन शुरू कर दी।यहाँ बताते चले की शोभा कुमारी की मां केवली देवी ने अपने दिए आवेदन में यह आरोप लगाया है मैं 29 फरवरी 2016 को अपनी पुत्री शोभा कुमारी की शादी हिन्दू -रीति रिवाज़ के अनुसार जिले के धनौती थाने के चनौर गाँव निवासी रामनाथ साह के पुत्र शैलेश गुप्ता के साथ की थी।शादी के कुछ दिनों बाद तक उसके साथ खूब अच्छी तरह से ससुराल वाले पेश आये और बाद में उसके ससुराल वाले यह कहने लगे कि तुम्हारा दादा बहुत बड़ा ठेकेदार है।इसलिए तुम दहेज में और पांच लाख रुपया तथा महंगी कार मांगो।जब विवाहिता ने दहेज न मांगने की बात कही तो उसके ससुराल वालों द्वारा उसे तरह-तरह से यातना देने लगे और इसी बीच उसके ससुराल वालों ने उक्त घटना को अंजाम दे डाले।इस सम्बंध में धनौती ओपी प्रभारी मुकेश कुमार पुष्पेन्द्र ने कहा की मृतिका के परिजनों के लिखित आवेदन के आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर अनुसंधान किया जा रहा है।