छपरा: पुलिस सप्ताह में व्यवसायियों को अमनौर पुलिस ने दिया इज्जत अब उतार दिया

0

पुलिस ने किया व्यवसाई पुत्र के साथ दुर्व्यवहार, व्यवसाई बंद कर पुलिस के विरुद्ध सड़क पर उतरे

छपरा :व्यवसायी पुत्र के साथ पुलिस ने किया दुर्ब्यवहार , छुब्ध होकर अमनौर के कुछ ब्यवसाइयो ने अपने अपने दुकान बंद कर सड़क पर उतर गए,और पुलिस के बिरुद्ध मोर्चा खोल दिया। जिससे अमनौर सोनहो पथ पर गाड़ी की लंबी लाइन खड़ी हो गई,तथा बाजार में महा जाम की स्थिती उत्पन्न हो गई।घटना बुधवार की दोपहर का है।पुलिस के बिरुद्ध आंदोलन कर रहे ब्यवसाइयो का आरोप था कि अमनौर पुलिस का ब्यवहार ब्यवसाइयो के प्रति गलत रहता है।गस्ती व वाहन जांच के दौरान हमेशा युवाओ को निशाना बनाते रहते है।सवर्ण ब्यवसाई रमेश सोनी ने बताया कि मेरा छोटा लड़का अमनौर हरनारायण ठाकुरवाड़ी बाजार के गली में बाइक के साथ खड़ा था,बे वजह अमनौर पुलिस आकर बाइक का चाभी ले लिया तथा उसके साथ दुर्ब्यवहार करने लगी, बिरोध करने पर गाली गलूज करने लगे, पुलिस के दुर्ब्यवहार से मेरा पुत्र काफी आहत हो गया। जिसके बिरुद्ध ब्यवसाइयो ने एसपी व डीआईजी से मिलकर शिकायत करने की बात कही।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

घण्टो बाद स्वतः ब्यवसाई सड़क से हट गए, यातायात चालू हो गया। आंदोलन कर रहे ब्यवसाइयो में प्रियेरंजन सिंह युवराज,बिजय शर्मा,सरपंच प्रतिनिधि अरविंद सिंह,प्रीतम कुमार गुप्ता,बिनोद जयशवाल, अनिल पटवा,संजीव सिंह,समेत सैकड़ो ब्यवसाई शामिल थे।इधर थाना अध्यक्ष विश्व मोहन राम ने आरोप को बेबुनियाद बताते हुए कहा कि पुलिस गस्ती कर रही थी।युवक कान में लीड लगाए ट्रिपल लोड में जा रहा था,पुलिस ने रोकना चाही,युवक पुलिस को देखते ही फरार हो गया,पुलिस संदेह पर उसका पीछा करते हुए उस गली में जा कर पकड़ गाड़ी के कागजात का सत्यापन करने लगी,इस दौरान युवक पुलिस के साथ दुर्ब्यवहार करना शुरू कर दिया।युवक को डांटने फटकारने पर कुछ लोगो ने इसे राजनीति हवा बना दिया।