छपरा: जदयू नेता की स्कॉर्पियो गाड़ी चोरी मामले में भाजपा सांसद की किरकिरी

0

छपरा: जदयू नेता कामेश्वर सिंह की चोरी गई स्कार्पियो गाड़ी की कर्नाटक से बरामदगी के बाद चर्चाओं का बाजार गर्म है।एक ओर जदयू नेता कामेश्वर सिंह ने सांसद जनार्दन सिंह सीग्रीवाल पर संसदीय आचरण के विरुद्ध कार्य करने का गंभीर आरोप लगा रहे है और इस संबंध में कई जगहों पर पत्राचार के माध्यम से शिकायत भी भेजी गई है। उक्त मामलें में बताया जा रहा है कि मशरक के गोपालवारी निवासी व जदयू नेता नेता कामेश्वर सिंह की भाजपा सांसद से काफी मधुर संबध था और उन्होंने अपने बेटे संजय कुमार सिंह के नाम पर लगभग 21लाख रुपये कीमत का नया स्कार्पियो गाड़ी खरीदकर सांसद को विस चुनाव में उपयोग के लिए मदद में दिया था।लेकिन जब जदयू नेता कामेश्वर सिंह विस चुनाव के बाद अपनी स्कार्पियो गाड़ी मांगना शुरू किए,वही से दोनों नेताओं के संबंधों में खटास शुरू हो गई। स्कार्पियो गाड़ी लौटाने के बजाय सांसद ने गाड़ी वापस करने के तारीख पे तारीख दे रहे थे।जिसके बाद जदयू नेता द्वारा स्कार्पियो गाड़ी की चोरी का मामला दर्ज कराना पड़ा।जिसके बाद पुलिस की टीम ने कर्नाटक के एक गैरेज से लावारिस हालत में बरामदगी कर मशरक थाने लाई गई है।बताया जा रहा है कि कर्नाटका में विजयनगर थाना क्षेत्र के राजाजी नगर में डॉ सचिन कुंद्रा के सर्विस सेंटर या गैरेज कहे वहां से स्कार्पियो की बरामदगी हुई है।कहा जा रहा है कि सर्विस सेंटर का मालिक डॉ सचिन कुंद्रा महाराजगंज के सांसद पुत्र के दोस्त का है।उक्त प्रकरण सोशल मीडिया में वायरल होने पर सांसद जनार्दन सिंह सीग्रीवाल की क्षेत्र में काफी किरकिरी हो रही है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

सारण पुलिस ने स्कार्पियो को कर्नाटक से की बरामद

सारण पुलिस ने गाड़ी की कर्नाटक से बरामदगी की पुष्टि की है, लेकिन सांसद के बेटे पर लगे आरोपों के बारे में फिलहाल कुछ भी कहने से इनकार किया है। उन्होंने कहा कि छानबीन के बाद ही सही जानकारी दी जाएगी। मालूम हो कि जेडीयू नेता कामेश्वर सिंह ने पिछले महीने 22 अगस्त को सारण जिले के मशरक थाना में यह रिपोर्ट लिखवाई थी कि मशरक थाना क्षेत्र के गोपालवाड़ी गांव स्थित उनके आवास से 20 लाख से ज्यादा रुपये की कीमती स्क्रोपियो गाड़ी चोरी हो गई है। जिसका नंबर बीआर 04 पीए 5356 है। पुलिस ने इस मामले में एफआईआर संख्या 440/21 दर्ज कर एसआई अरूण प्रकाश को केस का आईओ बनाया और जब जांच शुरू हुई तो पता चला कि बीजेपी सांसद के बेटे इस गाड़ी की सवारी कर रहे हैं। जांच जब आगे बढ़ी तो खुलासा हुआ कि यह गाड़ी यहां बिहार में नहीं बल्कि कर्नाटक में है। पुलिस ने जब लोकेशन खंगाला तो पता चला कि बेंगलुरु शहर में विजयनगर थाना क्षेत्र के राजाजी नगर में चोरी की गई यह स्कॉर्पियो है।

लावारिस हालत में पड़ी मिली चोरी की हुई गाड़ी

जिस जेडीयू नेता कामेश्वर सिंह की स्कॉर्पियो चोरी हुई, यह गाड़ी उनके बेटे संजय सिंह के नाम पर है। जब गाड़ी के कर्नाटक में होने की सूचना मिली तो संजय सिंह भी खुद मशरक पुलिस के साथ वहां से गाडी लेने गए।जब संजय सिंह मशरक की पुलिस को लेकर विजयनगर थाना क्षेत्र के राजाजी नगर पहुंचे तो उन्होंने देखा कि चोरी की गई स्कॉर्पियो गाड़ी डॉ सचिन कुंद्रा के एजेन्सी में लावारिस हालत में पड़ी हुई है। पुलिस और संजय सिंह वहां से गाड़ी बरामद कर वापस छपरा लौट गए। गाड़ी अभी भी मशरक थाने में ही पड़ी हुई है। जिसे रिलीज करने की प्रक्रिया चल रही है।

सांसद जनार्दन सिंह सीग्रीवाल ने आरोपों को किया खारिज

महाराजगंज सांसद जनार्दन सिंह सीग्रीवाल ने बयान जारी करते हुए स्कार्पियो प्रकरण से पल्ला झाड़ लिया है ।भाजपा सांसद सिग्रीवाल ने बयान में बताया कि स्कॉर्पियो प्रकरण से उनका और उनके पुत्र का कोई लेना देना नहीं है । महाराजगंज के सांसद सीग्रीवाल ने सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है।