छपरा: सारण में दो जगहों पर टूटा बांध, नये इलाकों के सौ घरों में घुसा पानी

0

छपरा: गंगा नदी के जलस्तर में लगातार वृद्धि से दिघवारा नगर पंचायत क्षेत्र तथा ग्रामीण क्षेत्र मे गंगा नदी के पानी अब गांवों तक पहुंचने लगा है। सदर प्रखंड की मुसेपुर, फूुलवरिया ठटोला, पकवलिया टोला, पिपरा टोला, पूर्वी बलुआं, पश्चिमी बलुआं, डुमरी दलित बस्ती के अलावा दियारा की तीनों पंचायतों के दर्जनों गांवों के सैकड़ों गांवों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है। कुछ लोग पलायन भी करने लगे हैं। उधर दिघवारा नगर पंचायत के वार्ड 16 बसतपुर खजुरबानी में शनिवार की सुबह से ही ग्रामीण सङक पर लगभग दो फीट तक पानी बह रहा है। मलखाचक गांव समेत बारहगांवा का रास्ता बंद हो गया है। वहीं बरूआं पंचायत के रामदास चक गांव स्थित बांध व मथुरापुर आमी बांध से पानी का रिसाव भी शुरू हो गया है। यदि पानी का दबाव इसी तरह बढता रहा तो कभी भी बांध टूट सकता है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

यदि बांध टूट गया तो रातों रात सैकड़ों गांव जलमग्न हो सकते है। नगर पंचायत के वार्ड 11 हेमतपुर तथा वार्ड दस राईपट्टी गांव के निचले सड़क पर पानी चढ़ गया है। आमी मंदिर से सटे सड़क पर पानी लगभग चार से पांच फीट हो गया है। मथुरापुर गांव के सैकड़ो लोग बाढ से प्रभावित हो चुके है। मलखाचक दलित बस्ती, आमी दलित बस्ती, मानुपुर,सैदपुर ,रामदास चक, श्रीनगर, त्रिलोकचक समेत कई गांवों के दक्षिण छोर पर बसे सैकड़ों घरो में पानी घुस गया है। अकिलपुर पंचायत तो बाढ़ से पूर्णत: प्रभावित हो गया है। साथ ही सैकड़ों एकड़ में लगी सब्जी व खरीफ फसल नष्ट हो गई है। पशुपालकों को पशुचारा की चिंता है। शनिवार को सीओ प्रवीण कुमार सिन्हा ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रो का दौरा करने के बाद रामदासचक बांध का निरीक्षण किया जहां बोरी मे बालू भर भर कर बांध से रिसाव को रोकने का प्रयास किया जा रहा है ।