छपरा: इसुआपुर में मिले चार कोरोना पॉजिटिव, दो गांवों की सीमा सील

0

इलाज कर रहा ग्रामीण चिकित्सक भी पोजेटिव

छपरा: जिले के इसुआपुर थाना क्षेत्र के नवादा और गंगोई गांवों में कोरोना के चार पॉजिटिव केस मिले हैं। जिन्हें होम कोरेंटिन कर दिया गया है। वहीं गांव की सीमा को भी सील कर दिया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, नवादा गांव का एक युवक छत्तीसगढ़ प्रांत के रायपुर शहर से एक सप्ताह पूर्व गांव आया था। उसे सर्दी-बुखार की शिकायत थी। जिसका इलाज पड़ोस के गंगोई गांव के एक ग्रामीण चिकित्सक ने किया। वहीं जल्द आराम नहीं होने पर सीएचसी इसुआपुर में कार्यरत वरीय चिकित्सक डॉ बी के सिंह के पास इलाज कराने गया। जहां उक्त डॉक्टर ने उसे कोरोना वायरस के जांच कराए जाने की सलाह दी। जिसके बाद सीएचसी इसुआपुर में उसकी कोरोनावायरस की जांच की गई। जिसमें वह पॉजिटिव पाया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

जिसके बाद उसके पूरे परिवार की भी जांच कराई गई। जिसमें परिवार के दो अन्य सदस्य भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं शुरुआती इलाज किए ग्रामीण चिकित्सक की भी जांच की गई। जिनका रिपोर्ट भी पॉजिटिव पाया गया। मालूम हो कि ग्रामीण चिकित्सक ने कोरोनावायरस की पहली डोज की सुई भी ले रखी थी। थाना क्षेत्र में कोरोना के चार-चार पॉजिटिव केस मिलने से लोगों में एक बार फिर से हड़कंप मच गया है। प्रशासन ने नवादा तथा गंगोई गांव की सीमा को सील कर दिया है। वहीं गांव को सैनिटाइज कराने की प्रक्रिया चल रही है।मालूम हो कि लगभग एक वर्ष पूर्व सारण जिले में पहला पॉजिटिव केस इसुआपुर थाना क्षेत्र के चांदपुरा गांव के एक युवक में मिला था। जो लॉकडाउन लगने के कुछ ही दिन पहले विदेश से घर आया था।